scorecardresearch
 

इटावा SP सिटी को थप्पड़ मारने के आरोपी दो BJP कार्यकर्ता गिरफ्तार, बाकी की तलाश जारी

इटावा (Etawah) में एसपी सिटी प्रशांत कुमार (SP City Prashant Kumar) को थप्पड़ मारने के मामले में पुलिस ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) के दो कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार (Two Worker arrested) कर लिया.

बीजेपी विधायक सरिता भदौरिया के सामने हाथ जोड़ते एसपी सिटी प्रशांत कुमार बीजेपी विधायक सरिता भदौरिया के सामने हाथ जोड़ते एसपी सिटी प्रशांत कुमार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ब्लॉक प्रमुख चुनाव के दौरान हुआ था बवाल
  • BJP कार्यकर्ताओं पर एसपी सिटी से मारपीट का आरोप

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के इटावा (Etawah) में एसपी सिटी प्रशांत कुमार (SP City Prashant Kumar) को थप्पड़ मारने के मामले में कार्रवाई शुरू हो गई है. पुलिस ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) के दो कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार (Two Worker arrested) कर लिया. बाकी की तलाश के लिए दबिश दी जा रही है.

दरअसल, इटावा में 10 जुलाई को ब्लॉक प्रमुख चुनाव के मतदान हो रहे थे. इसी दिन बढ़पुरा ब्लॉक में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी गणेश राजपूत और समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आनंद यादव के कार्यकर्ताओं के बीच हंगामा शुरू हो गया. बीच बचाव करने पहुंचे एसपी सिटी प्रशांत कुमार के साथ मारपीट हुई और फायरिंग भी की गई.

इस दौरान ही एसपी सिटी प्रशांत कुमार ने अपने उच्चाधिकारियों से बात की, जिसका वीडियो वायरल होने लगा. इस वीडियो में एसपी सिटी कहते हैं, 'भारतीय जनता पार्टी के लोगों के द्वारा उनके साथ मारपीट की गई,  भाजपाई बम, हथगोले ले कर आए हैं और फायरिंग कर रहे हैं.' इसके बाद एसपी सिंटी ने सदर विधायक सरिता भदौरिया के सामने हाथ भी जोड़ लिए.

एसपी सिटी प्रशांत कुमार का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने 100 से 125 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर किया था. इसके साथ ही गैंगस्टर और भाजपा नेता विमल भदौरिया के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया था. विमल भदौरिया की गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है और लोगों को गिरफ्तार कर रही है.

इसी बीच पुलिस ने कल यानी 12 जुलाई को शाम को हंगामा करने वाले भारतीय जनता पार्टी के नेताओं में से विवेक चौधरी उर्फ संजू चौधरी और श्याम सिंह भदौरिया को गिरफ्तार कर लिया. सबके खिलाफ 78/21 धारा 147, 148, 149, 332, 336, 352, 353, 307, 269 270 , 34 व 188 व 7 सीएलए व 151/ 57 एवं 3 महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है.

(रिपोर्ट- अमित तिवारी)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें