scorecardresearch
 

सुरेश रैना के रिश्तेदार मर्डर केस में तीन गिरफ्तारी, 11 आरोपियों की तलाश

क्रिकेटर सुरैश रैना के रिश्तेदारों की हत्या केस में पंजाब पुलिस ने तीन आरोपियों की गिरफ्तारी की हैं. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को बताया कि ये केस सॉल्व कर लिया गया है और लूटमार करने वाली गैंग के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

स्टोरी हाइलाइट्स
  • पंजाब के पठानकोट में हैं रैना के रिश्तेदार
  • 19 अगस्त की रात हुआ था परिवार पर हमला
  • लूट के इरादे से किया गया था हमला

क्रिकेटर सुरैश रैना के रिश्तेदारों की हत्या केस में पंजाब पुलिस ने तीन आरोपियों की गिरफ्तारी की हैं. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को बताया कि ये केस सॉल्व कर लिया गया है और लूटमार करने वाली गैंग के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. बता दें कि हमले में सुरैश रैना के अंकल और उनके बेटे की मौत हो गई थी, तीन लोग जख्मी हो गए थे. 

ये घटना पंजाब के पठानकोट जिले की है. यहां के शाहपुरकांडी थाना क्षेत्र के गांव थरयाल में सुरैश रैना के रिश्तेदार रहते हैं. 19 अगस्त की रात लूट के इरादे से आए डकैतों ने रैना के अंकल के परिवार पर जानलेवा कर दिया. इस हमले में रैना के अंकल अशोक कुमार, जो कि एक ठेकेदार थे, उनकी मौके पर ही मौत हो गई. जबकि अशोक कुमार के बेटे कौशल कुमार ने 31 अगस्त को अस्पताल में दम तोड़ दिया. परिवार की एक महिला आशा रानी की हालत अब भी गंभीर है. जबकि हमले में घायल दो अन्य लोग अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं. 

इस घटना के बाद ही सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एसआईटी का गठन किया था. सुरेश रैना ने भी अमरिंदर सिंह से जांच की मांग की थी. वरिष्ठ अधिकारियों की एसआईटी ने मामले की तफ्तीश शुरू की तो करीब 100 लोगों से पूछताछ की गई. 

पुलिस ने बताया कि 15 सितंबर को एसआईटी को जानकारी मिली कि वारदात के बाद अगली सुबह इलाके में जो तीन संदिग्ध देखे गए थे वो पठानकोट रेलवे स्टेशन के पास झुग्गियों में रह रहे हैं. इसके बाद वहां रेड की गई और तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया. 

डीजीपी के मुताबिक, आरोपियों के पास मृतक अशोक कुमार की एक सोने की अंगूठी, एक महिला की रिंग, एक महिला की गोल्ड चेन और 1530 रुपये बरामद किए गए हैं. तीनों ही आरोपी राजस्थान के झुंझुनू जिले के रहने वाले हैं. 

आरोपियों से शुरुआती पूछताछ में ये भी पता चला है कि ये लोग कुछ दूसरे बदमाशों के साथ मिलकर एक गैंग चला रहे थे. इनका गैंग यूपी से लेकर जम्मू-कश्मीर और पंजाब के अलग-अलग इलाकों में पहले भी वारदात को अंजाम दे चुका है.
 

19 अगस्त की रात करीब 8 बजे, गैंग के लोग दो-दो, तीन-तीन के ग्रुप में अशोक कुमार के घर पहुंचे. पांच आरोपी छत की तरफ से घर में गए जहां उन्होंने तीन लोगों को चटाई पर सोते हुए देखा. इन तीनों पर हमला करने के बाद वो और अंदर गए. इसके बाद दो लोगों पर हमला किया. हमले के बाद पैसा, जेवरात लूटकर वहां से फरार हो गए. 
 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें