scorecardresearch
 

असमः लड़की से गैंगरेप और मौत के बाद तोड़फोड़-आगजनी, पुलिस को करनी पड़ी फायरिंग

असम के सिलचर में रविवार को एक नाबालिग लड़की लापता हो गई थी और इसको लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग पुलिस पेट्रोल पोस्ट में एफआईआर भी दर्ज कराई गई थी. नाबालिग के पिता के मुताबिक 6 लोगों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.

सिलचर में शव मिलने के बाद आगजनी और तोड़फोड़ की गई (वीडियो ग्रैब) सिलचर में शव मिलने के बाद आगजनी और तोड़फोड़ की गई (वीडियो ग्रैब)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नाबालिग के पिता का आरोप, 6 लोगों ने किया गैंगरेप
  • परिजनों की मांग है कि सभी 6 लोगों को मौत की सजा दी जाए
  • भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस को करनी पड़ी हवाई फायरिंग

असम राज्य के कछार जिले के जिला मुख्यालय सिलचर में उस समय स्थिति तनावपूर्ण हो गई जब एक नाबालिग लड़की का शव मिला. शव मिलने के बाद लोगों ने रेप और हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर प्रदर्शन किया. साथ ही कई गाड़ियों में आग लगा दी.

सिलचर के आश्रम रोड निवासी एक नाबालिग लड़की रविवार को लापता हो गई थी. उनका शव आज बुधवार को सिलचर के मधुरा घाट से बरामद किया गया. स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि नाबालिग के अपहरण, रेप और उसकी हत्या के पीछे आश्रम रोड निवासी रोनी दास का हाथ है.

प्रदर्शन के नाम पर अनियंत्रित भीड़ ने क्षेत्र में जमकर तोड़फोड़ की. इस हिंसा में आम लोगों की मोटरसाइकिलों में भी तोड़फोड़ की गई और आग लगा दी गई. भीड़ ने सुरक्षाकर्मियों पर पथराव किया. आरोपी रोनी दास के परिजनों की दो दुकानों को आग के हवाले कर दिया. भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी.

तोड़फोड़ में हमारी कोई भूमिका नहींः पीड़ित परिवार

इसे भी क्लिक करें --- रेप केस में LJP सांसद प्रिंस पर FIR, पीड़िता ने चिराग पर भी लगाए ये आरोप

आगजनी और तोड़फोड़ की घटना पर पुलिस अधिकारियों ने भीड़ को समझाने की कोशिश की कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. हालांकि वे हंगामा करते रहे और दुकानें लूटते रहे. उनमें से कई शराब के नशे में थे. नाबालिग लड़की के पिता ने कहा कि उसने या उसके परिवार के सदस्यों ने इस तोड़फोड़ में कोई भूमिका नहीं निभाई.

दक्षिण असम के डीआईजी देवज्योति मुखर्जी, डीएसपी डॉक्टर कल्याण कुमार दास, ओसी सिलचर सदर, चंदन बोरा, आईसी तारापुर आनंद मेहदी घटनास्थल पर पहुंचे. स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए 147 सीआरपीएफ, फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को भी तैनात किया गया है. उपद्रवी भीड़ को हटा दिया गया है और स्थिति को नियंत्रण में लाया गया है.

इससे पहले रविवार को एक नाबालिग लड़की लापता हो गई थी और इस मामले में राष्ट्रीय राजमार्ग पुलिस पेट्रोल पोस्ट में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. नाबालिग के पिता के मुताबिक 6 लोगों ने उसके साथ गैंगरेप किया. उनकी मांग है कि सभी 6 लोगों को मौत की सजा दी जाए.

(इनपुट-दिलीप सिंह)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें