scorecardresearch
 

सुशांत सिंह राजपूत केसः 55 दिनों बाद भी बाकी है सवाल, कौन कर रहा जांच

अभी यही तय नहीं हुआ है कि सुशांत की मौत की जांच कौन करेगा. लेकिन दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट में एक और याचिका आ गई. याचिका दाखिल करने वाले ने सुप्रीम कोर्ट से गुज़ारिश की है कि सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत की जांच भी सीबीआई को सौंपी जाए.

सुंशात के पिता ने पटना में रिया के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कराया था सुंशात के पिता ने पटना में रिया के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कराया था

  • दिशा और सुशांत की मौत के बीच कोई रिश्ता है क्या?
  • दिशा की मौत से क्यों परेशान हो गए थे सुशांत?
  • अभी कई सवालों के जवाब मिलना है बाकी

सीबीआई, बिहार पुलिस या फिर महाराष्ट्र पुलिस? अगर सुशांत की मौत के करीब 55 दिनों बाद ये सवाल पूछना पड़े कि सुशांत केस की जांच अभी कौन कर रहा है तो इससे अजीब क्या होगा? मगर यही सच है. एक केस, दो राज्यों की पुलिस और एक सेंट्रल एजेंसी की वजह से इस केस का हश्र कुछ ऐसा हो गया है कि जांच में क्या निकला ये कोई नहीं पूछ रहा. बल्कि पूछा ये जा रहा है कि जांच कर कौन रहा है. तो आपको बता देते हैं कि फिलहाल सीबीआई इस मामले की जांच नहीं कर रही है.

सवाल पर सवाल!

सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान और सुशांत की मौत के बीच कोई रिश्ता है क्या? क्यों अब सुशांत की मौत के साथ-साथ दिशा की मौत की भी सीबीआई जांच की मांग उठने लगी है? अगर दिशा की मौत खुदकुशी नहीं बल्कि रेप के बाद मर्डर था तो फिर दिशा के मां-बाप और मंगेतर दो महीने से खामोश क्यों हैं? और सबसे बड़ी बात आखिर मुंबई पुलिस दिशा की मौत के बारे में क्या सोचती है?

ये ज़रूर पढ़ेंः मौत से पहले सुशांत सिंह राजपूत ने गूगल पर सर्च की थीं ये तीन बातें

अभी यही तय नहीं हुआ है कि सुशांत की मौत की जांच कौन करेगा. लेकिन दूसरी तरफ इसी सुप्रीम कोर्ट में एक और याचिका आ गई. याचिका दाखिल करने वाले ने सुप्रीम कोर्ट से गुज़ारिश की है कि सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत की जांच भी सीबीआई को सौंपी जाए. इस पर भी अभी फैसला आना बाकी है. अब सवाल ये है कि सुशांत और उसकी पूर्व मैनेजर दिशा की मौत का आपस में क्या ताल्लुक? क्या सुशांत की मौत का दिशा की मौत से कोई लेना-देना है? तो इसे समझने के लिए दिशा की मौत की पूरी कहानी समझनी ज़रूरी है.

8 जून 2020 जनकल्याण नगर, मलाड, मुंबई

आठ और नौ जून की रात रीजेंट गैलेक्सी सोसायटी की 14वीं मंज़िल पर दिशा के मंगेतर रोहन रॉय के घर पार्टी चल रही थी. इस पार्टी में दिशा के अलावा रोहन रॉय और दोनों के चार और दोस्त दीप अजमेरा, इंद्रनील वैद्य, हिमांशु शिकरे और रेशा पदवन यानी कुल छह लोग मौजूद थे. इसी पार्टी के दौरान देर रात दिशा एक बेडरूम के खिड़की से नीचे गिरी और उसकी मौत हो गई. दिशा ने खिड़की से छलांग लगाई थी या फिर वो गलती से नीचे गिरी, इसकी अभी जांच चल रही है.

मुंबई पुलिस के मुताबिक घर में मौजूद दिशा के मंगेतर, चारों दोस्तों और दिशा के मां-बाप ने पूछताछ में दिशा की मौत को लेकर किसी पर शक नहीं जताया. पर फिर भी पुलिस अपनी तरफ से मामले की जांच कर रही है. पुलिस के मुताबिक दिशा कुछ समय से कई प्रोजेक्ट को लेकर परेशान थी. बहुत मुमकिन है कि अगर दिशा ने खुदकुशी की है, तो उसकी वजह ये परेशानी भी हो सकती है.

दिशा जिस कॉर्नर स्टोर मैनेजमेंट कंपनी में काम कर रही थी, उसी कंपनी ने उसे सुशांत का मैनेजर बना कर भेजा था. हालांकि मुंबई पुलिस की मानें तो दिशा से सुशांत की मुलाकात सिर्फ़ एक बार मार्च में हुई थी. हालांकि मुंबई पुलिस ये भी मानती है कि दिशा की मौत की खबर सुनने के बाद सुशांत परेशान हो उठे थे. पर साथ ही पुलिस ये भी कहती है कि सुशांत दिशा को अच्छी तरह से नहीं जानते थे. ना ही उन्हें दिशा का नाम याद था. यहां तक कि जब दिशा की मौत की खबर आई, तो सुशांत ने अपने वकील से पूछा था कि ये दिशा कौन है?

Must Read: सुशांत सिंह राजपूत केस- जानिए 50 दिनों में कहां तक पहुंची मुंबई पुलिस की जांच

तो अब सवाल ये है कि दिशा की मौत को सुशांत की मौत से क्यों जोड़ा जा रहा है? तो इसकी भी एक कहानी है और इस कहानी की शुरुआत सोशल मीडिया पर होती है. दिशा की खुदकुशी पर शक जताते हुए ये कहा जाता है कि दिशा ने खुदकुशी नहीं की, बल्कि पहले उसका रेप हुआ और फिर क़त्ल. सोशल मीडिया की कहानी के मुताबिक आठ और नौ जून की रात एक पार्टी हुई. इस पार्टी में बॉलीवुड के कई सितारे और महाराष्ट्र के एक मंत्री भी शामिल हुए थे.

इसी पार्टी में दिशा के साथ रेप करने के बाद उसकी लाश को नीचे फेंक दिया गया. सोशल मीडिया की इस कहानी में आगे कहा गया कि कत्ल से पहले दिशा ने सुशांत को फोन कर सारी बात बता दी. सुशांत ने ये बात रिया को बता दी. रिया ने ये बात महेश भट्ट को बता दी और इसी के बाद सुशांत को खमोश करने के लिए 13 जून की रात को ही सुशांत का कत्ल कर दिया गया. इसी कहानी को आगे बढ़ाते हुए दलील दी जाती है कि इसी वजह से पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सुशांत की मौत का वक्त नहीं लिखा है.

मुंबई पुलिस के मुताबिक पार्टी वाली रात की सारी सीसीटीवी फुटेज पुलिस के पास मौजूद है. इनमें भी ऐसे कोई सबूत नहीं मिले, जिससे दिशा की मौत पर शक जाता हो. लेकिन फिर भी पुलिस की तफ्तीश अब भी जारी है. चूंकि दिशा की मौत पर परिवारवालों ने कोई शक नहीं जताया, लिहाज़ा इस मामले में भी कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें