scorecardresearch
 

सुशांत सिंह राजपूत केसः जानिए 50 दिनों में कहां तक पहुंची मुंबई पुलिस की जांच

मुंबई के पुलिस कमिश्नर का साफ कहना है कि 14 जून की रात सुशांत के घर में कोई पार्टी नहीं थी. वहां का सीसीटीवी फुटेज मुंबई पुलिस के पास है. हालांकि गैजेट्स की जांच में पता चला है कि मौत से पहले सुशांत गूगल पर बाइपोलर डिसऑर्डर, स्किज़ोफ्रेनिया और पेनलेस डेथ सर्च कर रहे थे.

सुशांत के पिता ने पटना में रिया के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कराया था (फाइल फोटो) सुशांत के पिता ने पटना में रिया के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कराया था (फाइल फोटो)

  • पहली बार सुशांत केस पर सामने आई मुंबई पुलिस
  • पुलिस कमिश्नर ने बताया, कहां तक पहुंची केस की जांच

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मामला दो राज्यों की पुलिस के बीच तनातनी का सबब बना हुआ है. इधर, अब सुशांत की मौत को पचास दिन पूरे हो चुके हैं. अब सवाल उठता है कि आखिर इन 50 दिनों में इस मामले को लेकर मुंबई पुलिस ने अब तक क्या किया और वो किस नतीजे पर पहुंची. मुंबई के पुलिस कमिश्नर के मुताबिक सुशांत के मोबाइल और लैपटॉप से कुछ ऐसी चीजें मिली हैं, जो सुशांत की मौत पर रोशनी डालती हैं.

मुंबई के पुलिस कमिश्नर का साफ कहना है कि 14 जून की रात सुशांत के घर में कोई पार्टी नहीं थी. वहां का सीसीटीवी फुटेज मुंबई पुलिस के पास है. हालांकि गैजेट्स की जांच में पता चला है कि मौत से पहले सुशांत गूगल पर बाइपोलर डिसऑर्डर, स्किज़ोफ्रेनिया और पेनलेस डेथ सर्च कर रहे थे. पुलिस आयुक्त के अनुसार दिशा की मौत से सुशांत काफी परेशान थे. दिशा से सुशांत सिर्फ एक बार मार्च के महीने में मिले थे. पुलिस के मुताबिक सुशांत के खाते से रिया के खाते में कोई पैसे नहीं गए. सुशांत के परिवार ने कभी किसी पर शक भी नहीं जताया.

ये ज़रूर पढ़ेंः सुशांत केस की जांच को लेकर दो राज्यों की पुलिस आमने-सामने, क्या है कानून

सुशांत की मौत के बाद पहली बार मुंबई पुलिस सामने आई है. पहली बार मुंबई पुलिस ने सुशांत की मौत, मौत की वजह, जांच और दूसरे सबूतों के बारे में जानकारी दी. पुलिस कमिश्नर के मुताबिक सुशांत की मौत से एक हफ्ते पहले उनकी पूर्व मैनेजर दिशा ने खुदकुशी कर ली थी. इस बात से सुशांत काफी परेशान थे. यहां तक कि उन्होंने अपने वकील को भी फोन किया था. हालांकि सुशांत दिशा से सिर्फ एक बार ही मिले थे.

सुशांत की मौत के बाद जब पुलिस ने उनके मोबाइल और लैपटॉप को खंगाला, तो दो बातें पता चलीं. पहली कि वो अपने बारे में गूगल में काफी सर्च कर रहे थे. और दूसरी वो कुछ बीमारियों के बारे में भी सर्च कर रहे थे. मुंबई पुलिस के मुताबिक ये बात गलत है कि 13 और 14 जून की रात सुशांत के घर में कोई पार्टी हुई थी और इसमें कोई नेता आया था.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्लिक करें

मुंबई पुलिस के मुताबिक 16 जून को सुशांत के पिता और उनकी तीन बहनों के अलावा उनके बहनोई के भी बयान दर्ज किए गए थे. इन लोगों ने अपने बयान में ये माना था कि सुशांत का इलाज चल रहा है. पुलिस ने ये भी बताया कि सुशांत की मौत को लेकर वो अलग-अलग पहलुओं से जांच कर रही है. इनमें प्रोफेशनल राइवलरी, करियर डैमेज करने, पैसों की हेर-फेर, रिश्ते और मेडिकल ट्रीटमेंट शामिल है.

मुंबई पुलिस के मुताबिक उन्होंने सुशांत के बैंक खातों की भी जांच की है. लेकिन अब तक जांच में ये कहीं भी सामने नहीं आया है कि सुशांत के खाते से रिया के खाते में पैसे ट्रांसफर किए गए. पुलिस कमिश्नर ने बताया कि सुशांत के खाते में करीब 18 करोड़ रुपये थे और अभी भी उनके खाते में साढ़े चार करोड़ रुपये हैं. पर उनके खाते से रिया के खाते में पैसे नहीं गए. इस पूरे मामले में मुंबई पुलिस अब तक 56 लोगों से पूछताछ कर चुकी है. मुंबई पुलिस का कहना है कि ना तो जांच अभी पूरी हुई है और ना ही वो किसी नतीजे पर पहुंचे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें