scorecardresearch
 

कोरोना के बीच पूर्वोत्तर के लोगों के साथ भेदभाव, पीएम मोदी से एक्शन की मांग

मिजोरम के सीएम जोरमथंगा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले में दखल देने की मांग की है, और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है.

मथुरा में लॉकडाउन तोड़ने पर लोगों को दंडित करती पुलिस (फोटो- पीटीआई) मथुरा में लॉकडाउन तोड़ने पर लोगों को दंडित करती पुलिस (फोटो- पीटीआई)

  • किराना दुकान से निकाले गए पूर्वोत्तर के नागरिक
  • मिजोरम के सीएम ने भेदभाव पर जताई आपत्ति

चीन से आए कोरोना वायरस की वजह से देश के नागरिकों को भी भेदभाव का शिकार होना पड़ रहा है. भारत में पूर्वोत्तर के नागरिकों के साथ अपने ही देश के नागरिक भेदभाव कर रहे हैं. कर्नाटक के मैसूर में एक किराना दुकान में पूर्वोत्तर के कुछ लोगों के साथ बुरा-बर्ताव किया गया. ये लोग जब सामान खरीदने दुकान गए तो उन्हें वहां से जबरन बाहर निकाल दिया गया.

किराना दुकान में भेदभाव

मिजोरम के सीएम जोरमथंगा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले में दखल देने की मांग की है, और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

बता दें कि मेघालय के सीएम कानराड संगमा ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में कथित रूप से पूर्वोत्तर के नागरिकों के साथ भेदभाव किया जा रहा है. ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें

मानवता कहां चली गई

इस वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए जोरमथंगा ने लिखा है कि मैं ये दखकर बेहद दुखी हूं, ये कैसे हो सकता है, मानवता इतनी नीचे कब चली गई.

प्रधानमंत्री से कार्रवाई की अपील करते हुए थोरमथंगा ने कहा, "मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह से अपील करता हूं कि वे इस मामले को देखें और कार्रवाई करें.

जोरमथंगा ने इस वीडियो को मेघालय के सीएम कोनराड संगमा, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनवाल, नागालैंड के सीएम नेफ्यू रियो और अरुणाचल के सीएम पेमा खांडू को भी टैग किया है.

बता दें कि देश में कोरोना से निपटने के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन लागू किया गया है. इसकी वजह से देश के अलग अलग इलाकों में रह रहे लोगों को जरूरी चीजों की खरीदारी में दिक्कत हो रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें