scorecardresearch
 

अहमदाबाद: कोरोना से जंग जीतकर घर पहुंची महिला तो शंख और ताली से हुआ स्वागत

महिला का इलाज अहमदाबाद के एसजीबी अस्पताल में चल रहा था. यह महिला फिनलैंड गई थीं. जब वहां से वापस अहमदाबाद पहुंचीं तो कोरोना पॉजिटिव पाई गईं. पूरे गुजरात में कोरोना का यह पहला मामला था.

कोरोना को दिया मात (प्रतीकात्मक फोटो- पीटीआई) कोरोना को दिया मात (प्रतीकात्मक फोटो- पीटीआई)

  • गुजरात की पहली कोरोना मरीज हुई ठीक
  • घर लौटने पर लोगों ने किया जोरदार स्वागत

देश में बढ़ती कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या के बीच कुछ राहत देने वाली खबरें भी सामने आ रही हैं. एक ओर संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है तो वहीं कुछ मरीज ऐसे हैं जो अस्पताल से ठीक होकर घर पहुंच रहे है. गुजरात के अहमदाबाद में सोमवार को एक मरीज, कोरोना को मात देकर जब घर पहुंची तो बिल्डिंग के लोगों ने तालियां और शंख बजाकर उनका स्वागत किया.

इस महिला का इलाज अहमदाबाद के एसजीबी अस्पताल में चल रहा था. यह महिला फिनलैंड गई थीं. जब वहां से वापस अहमदाबाद पहुंची तो कोरोना पॉजिटिव पाई गईं. पूरे गुजरात में कोरोना का यह पहला मामला था.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

अस्पताल से निकलने के बाद महिला ने मीडिया से भी बात की. उन्होंने बताया कि पिछले 10 दिनों से वो आइसोलेशन में थीं, अब घर में रहने का मतलब समझ में आ रहा है.

महिला ने यह भी बताया कि कोरोना की पहचान के लिए किया जाने वाला टेस्ट काफी पीड़ादायक होता है. महिला ने बताया कि उनके ऊपर कोरोना का ज्यादा असर नहीं हुआ था. इसलिए वेंटिलेटर पर या ऑक्सीजन पर रखने की जरूरत नहीं पड़ी.

अहमदाबाद में अब तक कोरोना की वजह से छह मौतें हो चुकी हैं. इसमें से अहमदाबाद में 3, सूरत और भावनगर में एक-एक मरीज की मौत हुई है. वहीं, गुजरात में अब तक कोरोना के 58 मामले सामने आ चुके हैं.

कोरोना से जुड़ी लाइव कवरेज के लिए क्लिक करें...

गुजरात में कोरोना संक्रमित अब तक जितने मामले सामने आए हैं, उनमें से 50% पॉजिटिव केस लोकल ट्रांसमिशन की वजह से हुए हैं, जिनका किसी भी तरह का कोई विदेश टूर का रिकॉर्ड नहीं था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें