scorecardresearch
 

झारखंड: दूसरी डोज में लगनी थी कोवैक्सीन, गलती से लगा दी कोविशील्ड, लोगों ने जमकर किया हंगामा

जिले के सिविल सर्जन ने बताया कि उक्त लोगों को भूलवश कोवैक्सीन की जगह कोविशील्ड का टीका लग गया है. हालांकि, किसी को भी किसी प्रकार की स्वास्थ संबंधित समस्या नहीं हुई है. 

वैक्सीन लगवाने के दौरान पलामू के सीएचसी में हंगामा वैक्सीन लगवाने के दौरान पलामू के सीएचसी में हंगामा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पलामू में 6 लोगों को लगाया दूसरी डोज की गलत वैक्सीन
  • लोगों ने सीएचसी में जमकर किया हंगामा
  • हंगामा होते देख बुलानी पड़ी फोर्स

कोरोना की वैक्सीन को लेकर पहले से ही समाज में कई तरह की गलतफहमियां हैं, लोग वैक्सीन लगवाने से कतराते हैं. ऐसे में अगर वैक्सीन लगाने में थोड़ी सी चूक हो जाए तो मामला और भी बिगड़ सकता है. ऐसा ही एक मामला झारखंड के पलामू जिले से आया है. 

पलामू के हरिहरगंज इलाके में बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) में गलत तरीके से 6 लोगों को कोरोना का वैक्सीन लगाए जाने पर जमकर हंगामा हुआ. हालात ऐसे बिगड़े कि मामले में पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा, इसके बाद स्थिति नियंत्रण में आई. मामले में जांच के बाद चिकित्सा अधिकारी डॉ. गोपाल प्रसाद ने उन लोगों से लिखित शिकायत मांगी है, जिन्हें गलत वैक्सीन लग गई है.

वैक्सीन लगवाने वालों में पिपरा प्रखंड के बभंडी ग्राम निवासी 18 वर्ष से अधिक आयु के रौनक कुमार, विवेकानंद, रितिक रोशन, सौरभ कुमार तथा 45 वर्ष से अधिक आयु की हरिहरगंज निवासी गीता देवी तथा सुशीला देवी शामिल हैं. इनमें रौनक तथा विवेकानंद ने पहला डोज मेदिनीनगर में तथा रितिक व सौरव ने गढ़वा के मझिगांव में लिया था. 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र

इस संबंध में जिला के सिविल सर्जन डॉ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि उक्त लोगों को भूलवश कोवैक्सीन की जगह कोविशील्ड का टीका लग गया है. हालांकि, इन सभी को किसी प्रकार की स्वास्थ संबंधित समस्या नहीं हुई है. 

बावजूद इसके सभी को स्वास्थ विभाग की निगरानी में रखा गया है. उन्होंने कहा कि उम्र और डोज के अनुसार अलग-अलग कतार लगायी गई थी. इसी बीच कतार बदलने से एएनएम द्वारा दूसरा इंजेक्शन लग गया. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें