scorecardresearch
 

पुणे: ढाई लाख लोगों को वैक्सीन की लगी दोनों डोज, लेकिन सर्टिफिकेट दोनों बार पहली डोज का मिला

कोविन ऐप में एक गड़बड़ी देखने को मिल रही है. पुणे के ढाई लाख लोगों ने वैक्सीन की दोनों डोज ली हैं लेकिन उन्हें सर्टिफिकेट दोनों बार पहली डोज का दिया गया. अब इस विवाद पर सफाई पेश की गई है.

X
वैक्सीन दोनों लगीं लेकिन सर्टिफिकेट हर बार पहली डोज का वैक्सीन दोनों लगीं लेकिन सर्टिफिकेट हर बार पहली डोज का
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दो अलग मोबाइल नंबर से एक शख्स नहीं कर सकता है रेजिस्टर
  • पहली-दूसरी दूसरी डोज के सर्टिफिकेट को किया जा सकता मर्ज

पुणे में ढाई लाख लोग ऐसे सामने आए हैं जिन्होंने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज तो लगवा ली हैं, लेकिन उन्हें दोनों बार सर्टिफिकेट पहली डोज का ही दे दिया गया. अब लोग इसे कोविन ऐप में गड़बड़ी के तौर पर देख रहे हैं. लेकिन बताया जा रहा है कि क्योंकि इन लोगों ने दोनों डोज लगवाने के लिए अलग-अलग मोबाइल नंबर से रेजिस्टर किया, ऐसे में उन्हें दोनों बार ही पहली डोज का सर्टिफिकेट दिया गया.

इसे बारे में कहा गया है कि वैक्सीन की पहली डोज लगने के बाद किसी भी शख्स को दूसरी डोज के लिए उसी मोबाइल नंबर से फिर बुकिंग करनी होती है. अगर कोई भी शख्स दोनों बार अलग-अलग मोबाइल नंबर से रेजिस्टर करेगा तो उसे दूसरी बार भी पहली वाली डोज का सर्टिफिकेट मिलेगा क्योंकि एक नाम से दो अलग-अलग मोबाइल के जरिए रेजिस्टर नहीं किया जा सकता.

इतना जरूर है कि अगर कोई दूसरा पहचान पत्र दिखाता है जिसमें उसका नाम, पता समान रहता है, ऐसी स्थिति में उसे एक ही वैक्सीन सर्टिफिकेट दिया जा सकता है जिसमें दोनों पहली और दूसरी डोज की तारीख लिखी होगी. लेकिन दो अलग मोबाइल नंबर से रेजिस्टर करने में ये दिक्कत आ सकती है. लेकिन ऐप के लोग इसे टेक्निकल ग्लिच ना मानकर एक ह्यूम एरर मान रहे हैं. 

ये भी जानकारी दी गई है कि कोविन ऐप द्वारा लगातार सुधार किया जा रहा है. जो भी लोगों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है, उन्हें नजरअंदाज नहीं किया जा रहा है. ‘Raise an Issue’ के नाम से एक ऑप्शन पहले से दिया गया है. इसके अलावा अब ऐप के जरिए ही वैक्सीन के दो सर्टिफिकेट को एक में ही मर्ज करने का विकल्प भी दे दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें