scorecardresearch
 

डराने लगा कोरोना... दिल्ली में गंभीर मरीज बढ़े, मुंबई में संक्रमण की सुपर स्पीड, तमिलनाडु में 90 दिन बाद पहली मौत

Coronavirus in India: देश में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ने लगा है. 24 घंटे में 12 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. दिल्ली और मुंबई में कोरोना सुपर स्पीड में आगे बढ़ रहा है.

X
देश में कोरोना की संक्रमण बढ़कर 2.35% पर पहुंच गई है. (फाइल फोटो-PTI) देश में कोरोना की संक्रमण बढ़कर 2.35% पर पहुंच गई है. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मुंबई में पॉजिटिविटी रेट 40% के करीब
  • दिल्ली के अस्पतालों में 169 मरीज भर्ती

Coronavirus in India: देश में कोरोना की रफ्तार अब डराने लगी है. 111 दिन बाद 12 हजार से ज्यादा नए संक्रमित सामने आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 24 घंटे में कोरोना के 12,213 नए मामले सामने आए हैं. ये आंकड़ा मंगलवार की तुलना में 38.4% ज्यादा है. इसी दौरान 11 मरीजों की मौत भी हुई, जिसमें से 3 केरल और दो मौतें महाराष्ट्र में हुईं. संक्रमण दर भी बढ़कर 2.35% पर आ गई है. एक्टिव केस भी 58 हजार के पार पहुंच गए हैं.  

राजधानी दिल्ली में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. लगातार दो दिन से एक हजार से ज्यादा संक्रमित सामने आ रहे हैं. बुधवार को यहां 1,375 नए संक्रमित सामने आए. 9 दिन में दिल्ली में मिलने वाले नए मरीजों की संख्या पांच गुना बढ़ गई है. 

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, राजधानी में संक्रमण दर 7 फीसदी के पार है. मंगलवार को दिल्ली में 1,118 संक्रमित मिले थे और पॉजिटिविटी रेट 6.50% रहा था. जबकि, सोमवार को 614 मामले सामने आए और पॉजिटिविटी रेट 7.06% रहा था. 

ये भी पढ़ें-- Explainer: जानिए कितने खतरनाक हैं ओमिक्रॉन के BA.4 and BA.5 वैरिएंट

दिल्ली में बढ़ रहे गंभीर मरीज

आंकड़े ये भी बताते हैं कि राजधानी में अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ने लगी है. ऑक्सीजन और वेंटिलेटर सपोर्ट पर रहने वाले मरीजों की संख्या कई गुना तक बढ़ गई है.

राजधानी के अस्पतालों में 6 जून तक 88 मरीज अस्पताल में भर्ती थे, जिसमें से 22 आईसीयू, 20 ऑक्सीजन और 1 मरीज वेंटिलेटर सपोर्ट पर था. 15 जून तक अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या बढ़कर 169 पर आ गई. बुधवार तक दिल्ली के अस्पतालों में 50 मरीज आईसीयू और इतने ही मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर थे. जबकि, 8 मरीज वेंटिलेटर पर हैं.

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, दिल्ली के अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए 9,582 बेड हैं, जिसमें से 9,413 यानी 98.24% अब भी खाली हैं. इसके अलावा 825 बेड कोविड केयर सेंटर और 129 बेड कोविड हेल्थ सेंटर में भी हैं.

मुंबई में 23 जनवरी के बाद फिर 2200 नए मामले

दिल्ली के अलावा महाराष्ट्र में भी कोरोना की रफ्तार बहुत तेजी से बढ़ रही है. महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना के 4,024 नए मामले सामने आए और 2 मरीजों की मौत भी हुई. 24 घंटे में ही यहां नए मरीजों की संख्या 37% से ज्यादा बढ़ गई.

महाराष्ट्र में चिंता बढ़ाने वाली बात ये भी है यहां बुधवार को ओमिक्रॉन के सब-वैरिएंट BA.5 के चार नए मामले भी सामने आए हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि चारों मरीज 26 मई से 9 जून के बीच संक्रमित मिले थे और अभी सभी की हालत स्थिर है. 

सबसे ज्यादा मामले मुंबई में बढ़ रहे हैं. यहां करीब 5 महीने बाद दो हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. बुधवार को मुंबई में कोरोना के 2,293 नए मामले सामने आए. 23 जनवरी के बाद मुंबई में फिर एक दिन में दो हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. तब 2,550 संक्रमित मिले थे. 

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि संक्रमण बढ़ने के बावजूद अभी भी अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या 2 से 3 फीसदी ही है. उन्होंने बताया कि अभी कोरोना का नया वैरिएंट सामने नहीं आया है. उन्होंने ये भी बताया कि मुंबई में पॉजिटिविटी रेट 40 फीसदी के करीब पहुंच गया है.

ये भी पढ़ें-- ओमिक्रॉन के सब-वैरिएंट मुंबई में मचा रहे हैं तबाही, स्वैब टेस्ट में 99.5 फीसदी मरीज मिले पॉजिटिव

तमिलनाडु में 90 दिन बाद मौत

देश में कोरोना के मामलों में भले ही तेजी आने लगी हो, लेकिन राहत की बात ये है कि मौतों का आंकड़ा मामलों की तुलना में बढ़ नहीं रहा है. हालांकि, तमिलनाडु में 90 दिन बाद किसी मरीज की कोरोना से मौत हुई है.

रिपोर्ट के मुताबिक, तमिलनाडु के तंजावुर मेडिकल कॉलेज में भर्ती 18 साल की एक लड़की की बुधवार को कोरोना से मौत हो गई. हैरानी की बात ये है कि उसने वैक्सीन की दोनों डोज ली थी और उसे पहले से कोई बीमारी भी नहीं थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें