scorecardresearch
 

राजस्थान में कोरोना के केंद्र भीलवाड़ा में निकाह, पहुंचे बस 4 लोग

भीलवाड़ा में कोरोना के 17 मरीजों का नाम सामने आ चुका था. बुधवार को ही भीलवाड़ा में 4 नए मरीजों की पहचान हुई. राजस्थान में कोरोना के अबतक 36 मरीज हैं.

राजस्थान में कोरोना के अब तक 36 केस आए हैं (फाइल फोटो-PTI) राजस्थान में कोरोना के अब तक 36 केस आए हैं (फाइल फोटो-PTI)

  • पूरे राजस्थान में कोरोना के 36 मरीज
  • अकेले भीलवाड़ा में 17 लोग संक्रमित
  • प्रशासन ने भीलवाड़ा में लगाया कर्फ्यू

भारत में कोरोना के मरीजों की तादाद में लगातार इजाफा हो रहा है लेकिन कुछ ऐसे इलाके भी हैं, जहां वायरस कुछ ज्यादा ही तेजी से फैल रहा है. ऐसा ही एक शहर है राजस्थान का भीलवाड़ा, जो इस वक्त राज्य कोरोना केंद्र बन चुका है. अकेले भीलवाड़ा में राजस्थान के कुल मरीजों में से 50 फीसदी से ज्यादा मरीज हो चुके हैं.

राजस्थान का भीलवाड़ा शहर, एक वक्त था जब सैलानियों की यहां भरमार हुआ करती थी. आज सड़कों पर सन्नाटा है. भीलवाड़ा में कर्फ्यू लगा हुआ है. लोगों को घरों से बाहर निकलने की सख्त मनाही है. भीलवाड़ा में कोरोना का ऐसा असर है कि एक निकाह में सिर्फ 4 लोग ही मौजूद थे, वह भी गवाह के तौर पर. संक्रमण का खौफ ऐसा कि जरुरी लोगों को ही बुलाया गया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

बुधवार रात तक कोरोना के 17 मरीज

बुधवार रात तक भीलवाड़ा में कोरोना के 17 मरीजों का नाम सामने आ चुका था. बुधवार को ही भीलवाड़ा में 4 नए मरीजों की पहचान हुई. राजस्थान में कोरोना के अबतक 36 मरीज हैं. मतलब ये है कि अकेले भीलवाड़ा में ही राज्य के कुल कोरोना मरीजों का आंकड़ा करीब 50 फीसदी है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

सबसे पहले डॉक्टर हुआ था संक्रमित

भीलवाड़ा में सबसे पहले संक्रमण की पुष्टि बागड़ अस्पताल के एक डॉक्टर में हुई थी. परेशानी ये है कि जिस अस्पताल से संक्रमण फैला था उसमें उस अवधि के दौरान करीब 500 मरीज आए थे. इन 500 मरीजों में 4 दूसरे राज्य और राजस्थान के 13 जिलों के थे. भीलवाड़ा में कोरोना का वायरस कैसे आया, ये भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है.

दो हजार बेड की गई व्यवस्था

इस बीच प्रशासन ने सभी होटल, धर्मशाला को अपने अधिकार में लेकर दो हजार बेड की व्यवस्था तो कर ली है, लेकिन मरीजों की तादाद लगातार बढ़ती ही जा रही है. कोरोना से लड़ने के लिए भीलवाड़ा जिले के देवरियां ग्राम पंचायत की सरपंच किस्‍मत गुर्जर ने अपने स्‍तर पर गांव में सैनेटाइजिंग शुरू कर दी है. गांव में सोडियम हाइड्रोक्‍लो‍राइड का छिडकाव किया जा रहा है.

कोरोना को हराने की जंग जारी

भीलवाड़ा में कोरोना से खतरनाक जंग लड़ी जा रही है. इन तमाम जद्दोजहद के बीच आशा, उम्मीद की एक किरण भी नजर आ रही है. भीलवाड़ा गवर्नमेंट अस्पताल की नर्सिंग और हाउसकीपिंग स्टाफ ने गाना गाकर जता दिया है कि वो तबतक नहीं हटेंगे जबतक कोरोना को हराएंगे नहीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें