scorecardresearch
 

थरूर की सरकार से मांग- नई संसद का भी पैसा कोरोना राहत फंड में दिया जाए

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि सरकार की ओर से दिए गए कोरोना राहत पैकेज से हर जिले को सिर्फ 20 करोड़ रुपया मिलेगा, जो कि नाकाफी है. इसलिए इसमें नई संसद और सेंट्रल विस्टा का 20 हजार करोड़ भी जोड़ा जाए.

कांग्रेस नेता शशि थरूर (फाइल फोटो-PTI) कांग्रेस नेता शशि थरूर (फाइल फोटो-PTI)

  • 15 हजार करोड़ रुपये का फंड जारी
  • कांग्रेस ने फंड को बताया नाकाफी

कोरोना से जंग के लिए मोदी सरकार ने 15 हजार करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया है. कांग्रेस ने राहत पैकेज की कम रकम पर सवाल उठाए हैं. कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि इस राहत पैकेज से हर जिले को सिर्फ 20 करोड़ रुपया मिलेगा, जो कि नाकाफी है. इससे पहले कांग्रेस के कई नेताओं ने सरकार से बड़े राहत पैकेज की मांग की है.

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने ट्विटर पर लिखा, 'एक सांसद के रूप में, मैं प्रधानमंत्री से अपील करता हूं कि नई संसद भवन और सेंट्रल विस्टा के लिए आवंटित 20 हजार करोड़ रुपये को भी कोरोना के 15 हजार करोड़ के राहत पैकेज में जोड़ा जाए. अभी का राहत प्रति जिले केवल 20 करोड़ रुपये है. संकट के इस समय इमारतों पर खर्च को रोका जाए.'

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

इससे पहले कांग्रेस ने मोदी सरकार पर कोरोना वायरस से निपटने में देरी करने का आरोप लगाया था. कांग्रेस ने कहा था कि अब देश के सामने आर्थिक समस्या खड़ी हो गई है, ऐसे में हमें उम्मीद है कि ये गलती दोबारा नहीं होगी. दुनिया के कई देशों ने इस महामारी से निपटने और आम लोगों को मदद पहुंचाने के लिए पैकेज का ऐलान कर दिया है, लेकिन हमारी सरकार ने सिर्फ 15 हजार करोड़ किया है, जो की नाकाफी है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

कांग्रेस ने सुझाव दिया था कि सरकार को न्याय योजना जैसी स्कीम लानी चाहिए, ताकि लोगों को सीधे तौर पर आर्थिक मदद पहुंचाई जा सके. इस दौरान कांग्रेस ने सरकार से पूछा था कि केंद्र के पास किसान, डॉक्टर, मजदूरों को मदद पहुंचाने, उनकी सुरक्षा के लिए कोई प्लान है, अगर है तो वह देश के सामने रखे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें