scorecardresearch
 

ढाई लाख डोज, 700 KG वजन, ऐसे देशभर में वैक्सीन की सप्लाई कर रहे स्पेशल प्लेन

राजधानी दिल्ली को कोरोना वैक्सीन की पहली खेप मिल गई है, इसके अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों में वैक्सीन के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो चुका है.

स्पेशल प्लेन से हो रही वैक्सीन की सप्लाई स्पेशल प्लेन से हो रही वैक्सीन की सप्लाई
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारी अंतिम दौर में
  • दिल्ली समेत अन्य जगहों पर पहुंच रही वैक्सीन

भारत में कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारी शुरू हो गई है. 16 जनवरी से टीकाकरण होना है और मंगलवार से ही पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट से देश के अलग-अलग हिस्सों में वैक्सीन की सप्लाई शुरू हो गई. राजधानी दिल्ली में भी वैक्सीन की खेप पहुंच गई है. सीरम इंस्टीट्यूट से मंगलवार तड़के ही स्पेशल कंटेनर के जरिए वैक्सीन को रवाना किया गया, इसके अलावा वैक्सीन की सप्लाई से जुड़ी कुछ अहम बातों को आप जानिए...

•    एअर इंडिया की ओर से बयान दिया गया है कि पुणे से अहमदाबाद तक वो वैक्सीन की सप्लाई कर रहे हैं. उनकी पहली खेप का वजन करीब 700 किग्रा. है, जिसमें 2.76 लाख वैक्सीन की डोज सप्लाई की जा रही हैं.

•    तमिलनाडु सरकार की ओर से भी जानकारी दी गई कि पुणे से उनकी पहली खेप मंगलवार को रवाना हो रही है. पहली खेप में 5.56 लाख वैक्सीन की डोज़ मौजूद हैं. इसके अलावा तमिलनाडु ने भारत बायोटेक से भी कोवैक्सीन के 20 हजार डोज मंगवाए हैं.


•    दिल्ली एयरपोर्ट की ओर से भी मंगलवार को वैक्सीन को लेकर बयान दिया गया. हमारे पास -20 डिग्री से +25 डिग्री सेल्सियस तक तापमान की क्षमता है. 

 

देखें- आजतक LIVE TV


•    दिल्ली में दोनों टर्मिनल पर एक दिन में 5.7 मिलियन डोज रखने की क्षमता है. एयरपोर्ट की ओर से सरकार, एजेंसियां, एयरलाइंस और अन्य सभी स्टेकहोल्डर के साथ संपर्क किया गया है और वैक्सीनेशन के काम में अहम रोल निभाने के लिए तैयारी की गई है.

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने अभी सीरम इंस्टीट्यूट को कुल 1.1 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर दिया था. जिसकी सप्लाई मंगलवार को शुरू हुई है. इसके अलावा भारत सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक को 5-6 करोड़ वैक्सीन डोज तैयार करने को कहा है. जिनका इस्तेमाल शुरुआती फेज़ में ही होना है.

मंगलवार सुबह जब कोरोना वैक्सीन की खेप सीरम इंस्टीट्यूट से रवाना हुई, तो स्पेशल ट्रक में इन्हें रवाना किया गया. साथ ही इनपर जीपीएस लगा हुआ है और पुलिस की गाड़ियां भी सप्लाई के दौरान इनके साथ रहेंगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें