scorecardresearch
 

वैक्सीन पर हाहाकार! ओडिशा में स्टॉक खत्म होने की वजह से बंद करने पड़े 700 सेंटर्स

महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश के बाद अब ओडिशा से भी वैक्सीन की कमी हो गई है. हालात इतने खराब हैं कि ओडिशा में वैक्सीन की कमी के कारण 1400 में से 700 वैक्सीनेशन सेंटर्स को बंद करना पड़ा. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने अब केंद्र के सामने ये मसला उठाया है.

देश के कई राज्यों में वैक्सीन की कमी की शिकायत (फाइल फोटो) देश के कई राज्यों में वैक्सीन की कमी की शिकायत (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ओडिशा में भी कोरोना वैक्सीन की कमी
  • कई सेंटर्स पर बंद करना पड़ा टीकाकरण
  • स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्र सरकार को लिखा खत

देश के अलग-अलग राज्यों में कोरोना वैक्सीन की भयंकर कमी हो गई है. महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश के बाद अब ओडिशा से भी यही हालात सामने आए हैं. हालात इतने खराब हैं कि ओडिशा में वैक्सीन की कमी के कारण 1400 में से 700 वैक्सीनेशन सेंटर्स को बंद करना पड़ा. अब राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने इसको लेकर केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखी है.   

ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नब किशोर दास का कहना है कि राज्य में कई जगह वैक्सीनेशन का काम रोक दिया गया है, हमारे पास सिर्फ दो दिन का ही स्टॉक बचा है. ऐसे में नया स्टॉक नहीं आता है, तो पूरे राज्य में वैक्सीनेशन ठप हो जाएगा. 

ओडिशा के मंत्री के मुताबिक, अभी उनके पास 5.34 लाख वैक्सीन की डोज़ हैं. उनके राज्य में हर दिन ढाई लाख डोज़ लगाई जाती हैं, यानी दो दिन में ये स्टॉक खत्म हो जाएगा. हमने केंद्र से मांग की है कि कम से कम 25 लाख डोज़ तुरंत भेज दें, ताकि अगले 10 दिन तक उनका काम चल जाए.

स्वास्थ्य मंत्री का दावा है कि केंद्र को उन्होंने 15 लाख वैक्सीन देने की पहले भी अपील की थी, लेकिन कोई जवाब ही नहीं आ पाया. 

ओडिशा में वैक्सीनेशन के इन्चार्ज बिजया पानिगढ़ी का कहना है कि पहले वैक्सीन की कमी के कारण 400 सेंटर्स बंद किए गए, अब ये संख्या 700 पहुंच गई है. बिजया के मुताबिक, हमने बुधवार को 2 लाख लोगों को टीका लगाने का टारगेट रखा था, लेकिन हम 1.10 लाख टीके ही लगा पाए. ओडिशा के कई जिले तो ऐसे हैं, जहां पूरी तरह से वैक्सीनेशन ठप हो गया है. 

महाराष्ट्र-झारखंड खड़े कर चुके हैं सवाल 
वैक्सीन की कमी को लेकर पहले ही महाराष्ट्र और केंद्र सरकार में रार चल रही है. महाराष्ट्र का कहना था कि उनके पास तीन दिन का ही वैक्सीन स्टॉक बचा है. अब जब केंद्र ने नया स्टॉक भेजा है, उसमें भी महाराष्ट्र को सिर्फ 17 लाख डोज़ दी गई हैं. जो उसकी जरूरत के हिसाब से काफी कम हैं.

महाराष्ट्र में तो सतारा समेत कई जिलों में वैक्सीनेशन ठप होने की बात भी सामने आई है. दूसरी ओर झारखंड की सरकार के मुताबिक, उनके पास वैक्सीन का सिर्फ दो दिन का स्टॉक बचा है.  

हालांकि, राज्य सरकार के दावों से इतर केंद्र की ओर से कहा गया है कि हर राज्य को वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में दी जा रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी बीते दिन कहा था कि किसी भी राज्य को वैक्सीन की कमी नहीं आने दी जाएगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें