scorecardresearch
 

रेलवे गणपति स्पेशल ट्रेन चलाने को तैयार, महाराष्ट्र सरकार को लेना होगा फैसला

गणपति महोत्सव को देखते हुए रेलवे गणपति स्पेशल ट्रेन चलाने के लिए तैयार है, लेकिन इस पर फैसला महाराष्ट्र सरकार को लेना है. कोरोना वायरस और संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशभर में रेल सेवाएं रोक दी गईं, हालांकि बाद में लोगों की आवाजाही के लिए कुछ स्पेशल ट्रेनें शुरू की गईं.

सांकेतिक तस्वीर (पीटीआई) सांकेतिक तस्वीर (पीटीआई)

  • रेलवे ने गणपति महोत्सव को लेकर स्पेशल ट्रेन के लिए लिखा
  • स्पेशल ट्रेन चलाने का मामला राज्य सरकार के पास विचाराधीन
भारतीय रेलवे का कहना है कि गणपति महोत्सव को देखते हुए गणपति स्पेशल ट्रेन चलाने के लिए तैयार है, लेकिन इस पर फैसला महाराष्ट्र सरकार को लेना है. कोरोना वायरस और संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशभर में रेल सेवाएं रोक दी गईं, हालांकि बाद में लोगों की आवाजाही के लिए कुछ स्पेशल ट्रेनें शुरू की गईं.

इस बीच मध्य रेलवे ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर गणपति स्पेशल ट्रेन (महाराष्ट्र के लिए कोंकण क्षेत्र के लिए विशेष लंबी दूरी की मेल/एक्सप्रेस ट्रेन) चलाने के बारे में उनके विचार पूछे हैं. साथ ही इन विशेष ट्रेनों को चलाने को लेकर ट्रेनों की संख्या और तारीखों के बारे में पूछा गया है. यह पत्र पिछले महीने 23 तारीख को लिखा गया था.

मध्य रेलवे के पत्र के जवाब में महाराष्ट्र की आपदा प्रबंधन इकाई के निदेशक ने 7 अगस्त को लिखे अपने पत्र से सूचित किया कि गणपति महोत्सव के लिए कोंकण क्षेत्र में विशेष ट्रेनें चलाई जा सकती हैं. फिर मध्य रेलवे ने तत्काल विशेष ट्रेनों को निर्धारित किया और रेलवे बोर्ड की स्वीकृति के लिए भेज दिया.

इसे भी पढ़ें --- फाइनल ट्रायल में पहुंची ऑक्सफोर्ड वैक्सीन, अक्टूबर तक आने का दावा

रेलवे बोर्ड ने कोरोना महामारी के मद्देनजर गृह मंत्रालय के स्टैंडर्ड ऑपरेशंस प्रोसिजर (SOP) और महाराष्ट्र सरकार के अंतर जिला यात्रा मानदंडों के पालन के साथ विशेष गाड़ियों को चलाने की मंजूरी दे दी है.

रेलवे सोशल डिस्टेंसिंग समेत कोरोना प्रोटोकॉल के तहत लागू सभी प्रावधानों के साथ स्पेशल ट्रेन चलाने को तैयार है. हालांकि, महाराष्ट्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने 8 अगस्त की रात में फोन पर सूचित किया कि विशेष ट्रेनों को चलाने संबंधी मामला महाराष्ट्र सरकार के विचाराधीन है और बताया कि इस पर सलाह ली जाएगी. तब से मंडल और क्षेत्रीय स्तर पर रेलवे प्रशासन महाराष्ट्र सरकार के अधिकारियों के साथ निरंतर संपर्क में है और आगे बढ़ने का इंतजार कर रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें