scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़ में तीन नदियों को पैदल पार कर कोविड वैक्सीन लगाने पहुंची हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम, देखें तस्वीरें

देश में कोरोना की तेज रफ्तार पर वैक्सीनेशन से लगाम लगी और उसमें बड़ी भूमिका निभाई स्वास्थ्यकर्मियों ने. नदी, जंगल, पहाड़ पार कर स्वास्थ्यकर्मी दुर्गम इलाकों में भी पहुंच रहे हैं और ये कोशिश कर रहे हैं कि उनको भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन की डोज लगाई जाए. ऐसी ही तस्वीरें सामने आई हैं छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले से.

X
नदी पार कर वैक्सीनेशन करने जाती टीम (फोटोः ANI)
नदी पार कर वैक्सीनेशन करने जाती टीम (फोटोः ANI)

कोरोना वायरस की महामारी पूरी दुनिया के लिए, पूरे देश के लिए चिंता का सबब बन गई थी. संक्रमण तेजी से फैल रहा था. लोग बड़ी संख्या में अस्पताल पहुंच रहे थे. अस्पतालों में बेड नहीं बचे थे. ऑक्सीजन के अभाव में मरीज दम तोड़ रहे थे. हालात ऐसे बन गए थे कि हर तरफ अनिश्चितता के काले बादल मंडरा रहे थे. तब देश में कोरोना की वैक्सीन आई.

युद्धस्तर पर चले वैक्सीनेशन अभियान के बाद हालात काबू में आ सके. वैक्सीनेशन में बड़ा योगदान उन कर्मचारियों का भी रहा जो वैक्सीनेशन में पूरी तत्परता के साथ जुटे रहे. दुर्गम इलाकों में पहुंचकर भी लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगाया. इसके लिए स्वास्थ्यकर्मियों को हिंसक जानवरों से भरे पड़े घने जंगल पार करने पड़े तो नदियों की उफनती धारा भी. ऐसी ही तस्वीरें सामने आई हैं छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले से.

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में वैक्सीनेशन करने जाती स्वास्थ्यकर्मियों की एक टीम की तस्वीरें सामने आई हैं. तस्वीरों में साफ नजर आ रहा है कि स्वास्थ्यकर्मी वैक्सीनेशन का सामान लेकर नदी पार कर रहे हैं. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग की वैक्सीनेशन टीम कुछ दुर्गम गांवों तक तीन नदियां पार कर पहुंची और लोगों को कोरोना से बचाव के लिए टीका लगाया.

दुर्गम गांव में वैक्सीनेशन करते स्वास्थ्यकर्मी (फोटोः ANI)
दुर्गम गांव में वैक्सीनेशन करते स्वास्थ्यकर्मी (फोटोः ANI)

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य विभाग की टीम तीन नदियां पार कर बीजापुर जिले के मरुदबका, लिंगापुर और नेला कांकेर पहुंची. स्वास्थ्यकर्मियों के हौंसले किस कदर बुलंद हैं, इसका अंदाजा आप तस्वीरों को देखकर भी लगा सकते हैं. इन गांवों में पहुंचने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों को एक या दो नहीं, तीन-तीन नदियां पार करनी पड़ीं.

गौरतलब है कि बारिश का मौसम चल रहा है. बारिश की वजह से इन दिनों नदियां उफान पर हैं. नदी की उफनती धारा देख हर रोज नदी पार कर आवागमन करने वाले लोग भी सहम जा रहे हैं लेकिन कोरोना का रक्षा कवच लेकर लोगों को देने जा रहे इन स्वास्थ्यकर्मियों के हौंसलों पर इसका कोई असर नजर नहीं आ रहा है.

बता दें कि देश में पिछले 24 घंटे के दौरान भी तेज गति से वैक्सीनेशन हुआ है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान देश में कोरोना वैक्सीन की 19 लाख 25 हजार 881 डोज लगाई गई है. देश में कोरोना की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत कोरोना वैक्सीन की 2 अरब 15 करोड़ 67  लाख 6 हजार 574 डोज लगाई जा चुकी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें