scorecardresearch
 

पॉजिटिव स्टोरीज

Corona vaccine पर बड़ी खुशखबरी, देखें क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री

24 नवंबर 2020

कोरोना वायरस की महामारी के बीच एक अच्छी खबर आ रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने आजतक से बताया कि मार्च के महीने तक भारत में कोरोना वैक्सीन के आने की पूरी संभावना है. उन्होंने बताया कि भारत में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल अंतिम फेज में है. कोरोना वैक्सीन का ट्रायल पूरा होते ही उसे लांच कर दिया जाएगा. आइसीएमआर और नेशनल बॉयलॉजिकल इंस्टीट्यूट की तरफ से बनाए जा रहे इस वैक्सीन का नाम को-वैक्सीन रखा गया है. देखिए आजतक से बातचीत में क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन.

भारतीयों को सबसे पहले मिलेगी हमारी वैक्सीन: सीरम इंस्टीट्यूट

24 नवंबर 2020

भारत में कोरोना से जूझ रहे लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है. वैक्सीन बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी ने कहा है कि भारत में सबसे पहले वैक्सीन देने पर वो काम कर रही है. उसका लक्ष्य इसी बात पर है कि कैसे हम भारत में सबसे पहले वैक्सीन दें. आपको बता दें कि ये कंपनी भारत की ही है. यहां दुनिया की सबसे ज्यादा वैक्सीन का उत्पादन होता है.

500 रुपये में कोरोना टेस्ट, 6 घंटे में रिजल्ट! स्पाइसजेट के चेयरमैन से खास बातचीत

23 नवंबर 2020

देशभर में कोरोना वायरस के मामलों में एक बार फिर से उछाल देखा जा रहा है. सरकार एक बार फिर टेस्टिंग की संख्या में बढ़ोतरी कर रही है. कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करवाया जा रहा है. मोबाइल लैब के जरिए गली-गली तक टेस्टिंग करने के अभियान का आगाज किया है स्पाइस हेल्थ ने. महज 500 रुपये में कोरोना का सबसे प्रभावी टेस्ट करने वाली कंपनी के अधिकारियों से बात की आज तक संवाददाता पूनम शर्मा ने. देखें वीडियो.

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका कोविड—19 के टीके को 90 फीसदी तक सफलता

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका टीके के 90 फीसदी तक सफलता का दावा

23 नवंबर 2020

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के कोविड-19 टीका की कोरोना से बचाने में सफलता दर 60 से 90 फीसदी तक रही है.

ये देश अपने लोगों के लिए खरीदेगा 5 बेहतरीन कोरोना वैक्सीन

23 नवंबर 2020

इस देश में कोरोना वायरस के 60 लाख से ज्यादा केस हैं. कोविड-19 संक्रमण से 1.69 लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. 54.30 लाख से ज्यादा लोग रिकवर भी हो चुके हैं लेकिन खतरा तो बना ही हुआ है. इसलिए यह देश दुनिया की पांच बेहतरीन कोरोना वैक्सीन को खरीदने का मन बना चुका है. यहां तक की इस देश के स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों के प्रतिनिधियों से बात भी कर चुके हैं.

कोवैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल होगा शुरू (फाइल फोटो)

Covaxin के तीसरे चरण का ट्रायल आज से, अनिल विज ने की टीका लगवाने की पेशकश

20 नवंबर 2020

पीजीआई रोहतक के वाइस चांसलर ने कहा कि कोवैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल शुक्रवार से शुरू होगा. 200 वॉलियंटर्स को डोज दी जाएगी. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की दो डोज होगी. पहली डोज देने के 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी.

स्वास्थ्य मंत्री बोले- अगस्त तक 50 करोड़ खुराकें होंगी उपलब्ध (फाइल-पीटीआई)

स्वास्थ्य मंत्री बोले- कोरोना वैक्सीन की प्राथमिकता तय, जानें- सबसे पहले किसे मिलेगा मौका

19 नवंबर 2020

डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन अगले कुछ महीनों में उपलब्ध होगी. उम्मीद है कि अगले साल की पहली तिमाही में वैक्सीन आ जाए. इसके बाद जुलाई-अगस्त तक 25-30 करोड़ लोगों के लिए 40-50 करोड़ खुराकें उपलब्ध हो जाएंगी.

pfizer का दावा, उनका वैक्सीन 95 फीसदी से ज्यादा कारगर (फोटो-रॉयटर्स)

कोरोना वैक्सीन को लेकर 'फाइजर' का दावा- 95 फीसदी से ज्यादा कारगर

18 नवंबर 2020

फाइजर और जर्मन पार्टनर बायोएनटेक ने आज अंतरिम परिणामों का एक दूसरा बैच जारी किया, जिसमें दावा किया गया है कि कोरोना वायरस की उनकी वैक्सीन 95 प्रतिशत तक कारगर है और यह बुजुर्ग लोगों को वायरस का शिकार होने के जोखिम से भी बचाती है.

Video: आखिरी मोड़ पर भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन, देखें

18 नवंबर 2020

कोरोना के खिलाफ जंग में भारत में भी वैक्सीन बनाने की तैयारी बहुत जोर शोर से चल रही है. इस कड़ी में विदेशी कंपनियों के साथ भी कई कंपनियों की साझीदारी है. रूस से एक कंपनी की साझीदारी में ट्रायल शुरु हो रहा है. ये कामयाब रहा तो दस करोड़ वैक्सीन डोज भारत आएगी. वही भारत बायोटेक की वैक्सीन भी आने के आसार हैं. इस बीच स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का भी दावा है कि अगले साल की शुरुआत में वैक्सीन आ सकती है.

कोरोना वैक्सीन की रेस में Moderna, Pfizer, Sputnik, देखें कितनी कारगर

18 नवंबर 2020

कोरोना की प्रचंड वैश्विक महामारी का इलाज कब तक मिलेगा. कब तक आ जाएगी कोरोना की वैक्सीन. तो आपके लिए ये एक खुशखबरी है कि बहुत जल्द ही कोरोना की वैक्सीन आने वाली है. दुनिया की कई कंपनियों ने कोरोना वैक्सीन का सफलतापूर्वक ट्रायल पूरा कर लिया है. देखें

ऐसे हुआ मॉडर्ना कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, ज‍िस पर टिकी दुनिया की नजर

18 नवंबर 2020

कोरोना के इस बुरे और डरावने समय में उम्मीद के कुछ चिराग भी झिलमिला रहे हैं. अमेरिका की मॉडर्ना कंपनी का कहना है कि उसकी वैक्सीन mRNA-1273 जल्द ही आ जाएगी. टेस्ट में इसकी वैक्सीन 94.5 फीसदी तक प्रभावशाली साबित हुई. मॉडर्ना को उम्मीद है कि इस साल के आखिर तक वैक्सीन के दो करोड़ डोज ला देगी. हालांकि कंपनी को उम्मीद है कि अगले साल तक सौ करोड़ डोज वो तैयार कर लेगी, लेकिन लोगों तक इस दवा को पहुंचाने के लिए मॉडर्ना कंपनी को कई औपचारिकताओं से गुजरना होगा. कंपनी बहुत जल्द ही सरकार से इसके इस्तेमाल की इजाजत मांगेगी. जान‍िए कैसे हुआ मॉडर्ना वैक्सीन का ट्रायल, ज‍िस पर टिकी है पूरी दुनिया की नजर.