scorecardresearch
 

One Nation One Ration Card Scheme: आज से दिल्ली में वन नेशन वन राशन लागू करेगी केजरीवाल सरकार, जानें क्या-क्या होंगे बदलाव

One Nation One Ration Card Scheme: सुप्रीम कोर्ड के आदेश के मुताबिक इस योजना को पूरे देश में 31 जुलाई तक लागू किया जाना है. इस योजना से जुड़ चुके राज्यों की सूची आप आधिकारिक वेबसाइट www.impds.nic.in/portal पर जाकर देख सकते हैं.

One Nation One Ration Card Scheme: एक देश एक राशन स्कीम से किसे होगा लाभ? One Nation One Ration Card Scheme: एक देश एक राशन स्कीम से किसे होगा लाभ?

One Nation One Ration Card Scheme: तमाम विवादों के बाद केंद्र सरकार (Modi Government) की 'वन नेशन वन राशन कार्ड स्कीम' (One Nation One Ration Card Scheme) को दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने हरी झंडी दे दी है. इस योजना के दिल्ली में लागू हो जाने के बाद अब राजधानी में रह रहे दूसरे राज्यों के लोगों को भी इसका लाभ मिल सकेगा. ओएनओआरसी योजना के तहत दिल्ली में रह रहे राशन कार्ड धारक प्रवासी मजदूरों को भी मुफ्त राशन मिलेगा. राशन कार्ड धारक नाकरिक इस योजना के तहत पंजीकृत किसी भी राशन की दुकान से मुफ्त में राशन ले सकते हैं. सुप्रीम कोर्ड के आदेश के मुताबिक इस योजना को पूरे देश में 31 जुलाई तक लागू किया जाना है. इस योजना से जुड़ चुके राज्यों की सूची आप आधिकारिक वेबसाइट www.impds.nic.in/portal पर जाकर देख सकते हैं.

One Nation One Ration Card Scheme: क्या है वन नेशन वन राशन कार्ड योजना?
> राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत शुरू किए गए इस योजना के तहत राशन कार्ड धारण करने वाला नागरिक देश के किसी भी राशन की दुकान से राशन ले सकता है.
> इस योजना के तहत देश भर में करीब 5.25 लाख राशन की दुकानें पंजीकृत हैं. यानी इन दुकानों से आप राशन कार्ड दिखाकर राशन ले सकते हैं.
> वन नेशन वन राशन (One Nation One Ration) योजना का लाभ राशन कार्ड रखने वाले सभी लोगों को मिलेगा.
> दूसरे राज्यों में काम के लिए जाने वाले लोग भी इस योजना के तहत किसी भी राशन की दुकान से राशन खरीद सकते हैं.
> इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए दूसरे राज्यों में गए मजदूरों को उस राज्य का राशन कार्ड बनवाने की जरूरत नहीं होगी.
> राशन केंद्र पर इस योजना के तहत बायोमेट्रिक सिस्टम के आधार पर कार्ड धारक की जानकारी सत्यापित कर उसे राशन मुहैया कराया जाता है.

कितना मिलेगा राशन?
> एक देश एक राशन कार्ड (One Nation One Ration) योजना के तहत दिल्ली में राशन की दुकानों पर 2 रुपए प्रति किलो गेहूं, 3 रुपए प्रति किलो चावल और 1 रुपए प्रति किलो मोटा अनाज खरीद सकते हैं.
> राशन कार्ड धरकों को (पीआर, पीआरएस और एएवाई) पीएमजीकेएवाई के तहत 4 किलो गेहूं और 1 किलो चावल सहित हर महीने 5 किलो अनाज मिलेगा.

क्या है इस योजना का उद्देश्य?
केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार का उद्देश्य वन नेशन वन राशन (One Nation One Ration) योजना को पूरे देश में लागू करना है. इस योजना के पीछे सरकार का उद्देश्य फर्जी राशन कार्ड से होने वाले अनाज वितरण पर रोक लगाना है. इससे राशन के नाम पर किए जाने वाले भ्रष्टाचार को रोका जा सकता है. साथ ही इस योजना से दूसरे राज्यों में रहने वाले राशन कार्ड धारकों को वहां सरकारी रेट पर राशन लेने में कोई परेशानी नहीं होगी. प्रवासी मजदूरों को इस योजना का सबसे ज्यादा फायदा होगा.

वन नेशन वन राशन के ऐप से क्या लाभ?
वन नेशन वन राशन (One Nation One Ration) योजना के लिए एक मोबाइल ऐप भी लॉन्च किया गया है जिसका नाम 'मेरा राशन' है. इसकी मदद से आप अपने आस-पास मौजूद राशन की दुकानों का पता लगा सकते हैं. ऐप की मदद से आप ये जान सकते हैं कि आपको कितना अनाज मिलेगा, या आपकी पात्रता क्या है. इस ऐप के माध्यम से आप पहले की गई राशन की खरीद से जुड़ी जानकारी भी देख सकते हैं. अगर आपको लगता है कि राशन वितरण में कोई सुधार की आवश्यकता है या कोई दिक्कत हो रही है तो इस ऐप की मदद से आप शिकायत या सुझाव दर्ज कर सकते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें