scorecardresearch
 

Alert: क्रेडिट कार्ड से भरते हैं हाउस रेंट, अब यह बैंक करेगा 1 फीसदी चार्ज

अभी तक कोई भी बैंक इस तरह के ट्रांजेक्शन पर कोई शुल्क वसूल नहीं करता था. इस कारण कई किरायेदार क्रेड, रेड जिराफ, माई गेट, पेटीएम और मैजिक ब्रिक्स जैसे प्लेटफॉर्म्स पर रेसिपिएंट के ऑप्शन में मकान मालिक का बैंक अकाउंट डिटेल या यूपीआई एड्रेस भर देते थे और क्रेडिट कार्ड से पेमेंट कर देते थे.

X
क्रेडिट कार्ड से रेंट भरना होगा महंगा
क्रेडिट कार्ड से रेंट भरना होगा महंगा

आज के समय में क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल (Credit Card Uses) काफी बढ़ गया है. लोग क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल शॉपिंग से लेकर बिल पेमेंट तक करने में करते हैं. काफी सारे लोग क्रेडिट कार्ड से घर का किराया भी भरते हैं. क्रेड (Cred), रेड जिराफ (Red Giraffe) , माई गेट (Mygate), पेटीएम (Paytm) और मैजिक ब्रिक्स (Magic Brics) जैसे प्लेटफॉर्म्स ने क्रेडिट कार्ड से रेंट भरना फायदे का सौदा भी बना दिया है.

हालांकि अब ऐसा करना महंगा पड़ने वाला है. आईसीआईसीआई बैंक ने अपने क्रेडिट कार्ड (ICICI Bank Credit Card) से रेंट पेमेंट करने पर अब 1 फीसदी का शुल्क लगा दिया है.

इस तारीख से लागू होगा फैसला

ICICI Bank ने अपने सभी ग्राहकों को इस बारे में मंगलवार (यानी 20 सितंबर) को सूचित कर दिया है. यह शुल्क 20 अक्टूबर से प्रभावी हो जाएगा. यह ऐसा पहला मौका है, जब किसी बैंक ने क्रेडिट कार्ड से रेंट भरने पर चार्ज लगाने का ऐलान किया है. हालांकि अब ऐसा माना जा रहा है कि अन्य बैंक भी जल्दी ही आईसीआईसीआई बैंक की तरह अपने क्रेडिट कार्ड से रेंट भरने पर इसी तरह का चार्ज लगाने का ऐलान कर सकते हैं. आईसीआईसीआई बैंक ने ग्राहकों को भेजे संदेश में कहा, 'प्रिय ग्राहक, 20 अक्टूबर 2022 से आपके आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड से रेंट भरने के सभी ट्रांजेक्शन पर 01 फीसदी का चार्ज लगेगा.'

अब तक लगता था सिर्फ ये चार्ज

अभी तक कोई भी बैंक इस तरह के ट्रांजेक्शन पर कोई शुल्क वसूला नहीं करता था. इस कारण कई किरायेदार क्रेड, रेड जिराफ, माई गेट, Paytm और मैजिक ब्रिक्स जैसे प्लेटफॉर्म्स पर रेसिपिएंट के ऑप्शन में मकान मालिक का बैंक अकाउंट डिटेल या UPI एड्रेस भर देते थे और क्रेडिट कार्ड से पेमेंट कर देते थे. इसके लिए प्लेटफॉर्म्स हर ट्रांजेक्शन पर 0.46 फीसदी से 2.36 फीसदी शुल्क वसूल करते थे. यह शुल्क मर्चेंट डिस्काउंट रेट यानी MDR के बदले लिया जाता था. अब क्रेडिट कार्ड (Credit Card) से रेंट भरने वालों को इस चार्ज के अलावा अलग से 1 फीसदी अतिरिक्त चार्ज का भुगतान करना होगा.

इस कारण बैंक ने लगाया चार्ज

आईसीआईसीआई बैंक ने क्रेडिट कार्ड से रेंट भरने पर चार्ज लगाने का कोई कारण नहीं बताया है. हालांकि जानकारों का कहना है कि बैंक ने क्रेडिट रोटेशन के लिए रेंट पेमेंट फीचर का दुरुपयोग रोकने के लिए ऐसा किया होगा. दरअसल क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर एटीएम से कैश निकालना काफी महंगा पड़ता है. इसके लिए ग्राहकों को 2.5-3 फीसदी चार्ज देना पड़ता है. इस कारण कई लोग अपने दोस्त या रिश्तेदार को मकान मालिक बनाकर उनके अकाउंट में रेंट के नाम पर क्रेडिट कार्ड से पैसे भेज देते थे और कैश का इस्तेमाल करते थे. अब चार्ज लगाए जाने के बाद ऐसे मामले कम हो सकते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें