scorecardresearch
 

DA Update: महंगाई दर 7% से कम, फिर कितना बढ़ेगा सरकारी कर्मचारियों का डीए?

पिछली बार सरकार ने मार्च 2022 में डीए में इजाफा किया था. तब डीए में तीन फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी. क्योंकि डीए में बदलाव के छह महीने पूरे हो गए हैं, इसलिए कर्मचारियों को उम्मीद है कि जल्द ही सरकार उनकी सैलरी बढ़ा सकती है.

X
सरकारी कर्मचारियों के डीए में इजाफा कब?
सरकारी कर्मचारियों के डीए में इजाफा कब?
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मार्च में बढ़ा था कर्मचारियों का डीए
  • हर छह महीने पर होता है बदलाव

केंद्र सरकार (Central Government) जल्द ही केंद्रीय कर्मचारियों (Government Employees) को बड़ा तोहफा दे सकती है. सरकार कर्मचारियों की सैलरी में बढ़ोतरी करने पर विचार कर रही है. जल्द ही केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में बढ़ोतरी (DA Hike) पर फैसला लिया जा सकता है. देश में खुदरा महंगाई (Retail Inflation) दर में जुलाई के महीने में गिरावट आई है और अब यह सात फीसदी से नीचे आ गई है. हालांकि, महंगाई दर अभी भी रिजर्व बैंक (RBI) के तय लक्ष्य से ऊपर बनी हुई है. ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही सरकार केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में इजाफा कर सकती है.

हर छह महीने में होता है बदलाव

सरकार की ओर से केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में बढ़ोतरी को लेकर अभी तक कुछ नहीं कहा गया है. हालांकि, सरकार ने साफ कर दिया है कि फिलहाल आठवां वेतन आयोग लाने की कोई तैयारी नहीं है. डीए सरकारी कर्मचारियों की सैलरी स्ट्रक्चर का हिस्सा होता है. सरकार इसमें हर छह महीने पर बदलाव करती है.

पिछली बार सरकार ने मार्च 2022 में डीए में इजाफा किया था. तब डीए में तीन फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी. क्योंकि डीए में बदलाव के छह महीने पूरे हो गए हैं, इसलिए कर्मचारियों को उम्मीद है कि जल्द ही सरकार उनकी सैलरी बढ़ा सकती है.

कितनी है महंगाई दर

जुलाई के महीने में खुदरा महंगाई दर 6.71 फीसदी पर आ गई है. जून में यह 7.01 फीसदी रही थी. ऐसे में हो सकता है कि सरकार डीए में 4 फीसदी का इजाफा करे. जब महंगाई दर 7 फीसदी से अधिक थी, तो उम्मीद जताई जा रही थी डीए में 5 फीसदी का इजाफा हो सकता है. फिलहाल केंद्रीय कर्मचारियों को 34 फीसदी की दर से डीए मिल रहा है. ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (AICPI) के आधार पर कर्मचारियों का डीए तय होता है. 

लाखों कर्मचारियों को होगा फायदा

अगर सरकार महंगाई के आंकड़े को देखते हुए जुलाई में डीए को 4 फीसदी तक बढ़ाती है, तो इसका फायदा 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनर्स को मिलेगा. सरकारी कर्मचारियों को मिलने वाला डीए उनकी वित्तीय सहायता सैलरी स्ट्रक्चर का हिस्सा होता है. सरकार महंगाई के अनुसार डीए को बढ़ाती है, ताकी कर्मचारियों के जीवन स्तर किसी भी तरह से प्रभावित नहीं हो.

एक अनुमान के मुताबिक अभी किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी अगर 18,000 रुपये है, तो 34 फीसदी के हिसाब से उसका महंगाई भत्ता 6,120 रुपये बनता है.अब अगर डीए 38 फीसदी होता है तो कर्मचारी को 6,840 रुपये का महंगाई भत्ता मिलेगा. इस तरह से उन्हें सालाना सैलरी 8,640 रुपये ज्यादा मिलेंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें