scorecardresearch
 
यूटिलिटी

गाड़ी चले जितनी उतना लगे इंश्योरेंस का प्रीमियम, ऐसा वाहन बीमा आपके लिए कितना फायदेमंद?

क्या है किलोमीटर वाला वाहन बीमा
  • 1/5

कोविड के दौरान कई कंपनियों ने प्रति किलोमीटर के हिसाब से वाहन बीमा के प्रीमियम की पेशकश की. इसके तहत तीन पैकेज 2,500 किलोमीटर, 5,000 किलोमीटर और 7,500 किलोमीटर के हिसाब से वाहन बीमा का प्रीमियम तय होता है. इन पॉलिसियों को लाने का मकसद लॉकडाउन में सड़कों से दूर गाड़ियों के लिए ग्राहकों को इस्तेमाल के हिसाब से वाहन बीमा के प्रीमियम की पेशकश करना था.
(Photo:File)

कितना सस्ता पड़ता है प्रीमियम
  • 2/5

आपके वाहन बीमा के दो मुख्य हिस्से होते हैं. पहला खुद के वाहन को नुकसान (Own Damage) का बीमा और दूसरा थर्ड पार्टी का बीमा कवर. किलोमीटर के हिसाब से प्रीमियम वाली पॉलिसियों (Pay As You Drive) में ऊपर बताए गए किलोमीटर पैकेज के आधार पर सिर्फ Own Damage बीमा कवर पर 20 से 30% की छूट मिलती है. बाकी थर्ड पार्टी बीमा कवर स्टैंडर्ड ही रहता है.
(Photo:File)

कौन-कौन सी कंपनियां कर रहीं पेशकश
  • 3/5

आईसीआईसीआई लॉम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस, एडेलवाइस जनरल इंश्योरेंस, भारती एक्जा जनरल इंश्योरेंस, टाटा एआईजी जनरल इश्योरेंस और बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस इत्यादि कंपनियों को IRDAI से Pay As You Drive वाहन बीमा पॉलिसी पेश करने की अनुमति मिल चुकी है. इस बारे में बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस के मैनेजिंग डायरेक्ट और सीईओ तपन सिंघल का कहना है कि लॉकडाउन के दौरान हमने ऐसी बीमा पॉलिसियों की पेशकश की थी, लेकिन अब हम इन्हें रेगुलर प्रोडक्ट के तौर पर पेश कर रहे हैं.
(Photo:File)

भूलने की आदत ना बन जाए परेशानी
  • 4/5

हालांकि Pay As You Drive बीमा पॉलिसियों को लेकर डिजिट इंश्योरेंस के चेयरमैन कामेश गोयल ग्राहकों को चेतावनी देते हैं कि उन्हें समय से अपनी पॉलिसी को रिन्यू कराना चाहिए. अभी साल लगभग 30 से 40 प्रतिशत ग्राहक समय पर अपना वाहन बीमा रिन्यू कराना भूल जाते हैं. ऐसे में यदि आपकी गाड़ी तय किलोमीटर से अधिक चल गई या आप पॉलिसी रिन्यू कराना भूल गए और एक्सीडेंट हो गया तो आपको बीमा कवर नहीं मिलेगा.
(Photo:File)

कंपनियों को नहीं ग्राहक को फायदा
  • 5/5

Pay As You Drive बीमा पॉलिसियां असल में ग्राहकों के लिए फायदेमंद हैं. इसे कामेश गोयल ऐसे समझाते हैं कि भारत में अधिकतर लोगों की गाड़ी सड़कों पर खड़ी होती है ना कि पार्किंग में, ऐसे में कंपनियों को तो क्लेम देना ही पड़ता है. फिर चक्रवात और बाढ़ के दौरान मिलने वाला बीमा कवर भी है. लेकिन ग्राहकों को उनके प्रीमियम पर बचत होती है,  हालांकि ये बहुत छोटी रकम है क्योंकि भारत में वाहन बीमा बाजार इतना प्रतिस्पर्धी है कि ये बहुत ज्यादा मायने नहीं रखता कि आपने साधारण वाहन बीमा पॉलिसी ली है या Pay As You Drive बीमा पॉलिसी.
(Photo:File)