scorecardresearch
 
यूटिलिटी

RIL को बीते हफ्ते भी नुकसान, सेंसेक्स की टॉप-10 कंपनियों में से आधे को झटका

शेयर बाजार की चाल
  • 1/7

भारतीय शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला जारी है. पिछले हफ्ते सेंसेक्स में 439.25 अंक या 1.01 फीसद की बढ़त देखने को मिली. लेकिन सेंसेक्स की टॉप-10 कंपनियों में से 5 को नुकसान उठाना पड़ा है. सबसे ज्यादा रिलायंस इंडस्ट्रीज के मार्केट कैप में कटौती हुई है. 

सेंसेक्स की टॉप-10 में से 5 कंपनियों को नुकसान
  • 2/7

सेंसेक्स की टॉप-10 में से पांच कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में पिछले हफ्ते कुल  1,07,160 करोड़ रुपये की कमी दर्ज की गई. बीते हफ्ते रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS), हिंदुस्तान यूनिलीवर (HUL), इंफोसिस और ICICI बैंक की बाजार हैसियत में भी कमी देखने को मिली.

RIL के शेयर दबाव में
  • 3/7

दरअसल, पिछले करीब दो महीने से रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में दबाव देखने को मिल रहा है. शुक्रवार को शेयर अपने उच्चतम स्तर से करीब 20 फीसदी की गिरावट पर बंद हुआ. रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) का बाजार मूल्यांकन 69,378.51 करोड़ रुपये की कमी के साथ 12,84,246.18 करोड़ रुपये पर रह गया.  

TCS का मार्केट कैप घटा
  • 4/7

इसी तरह TCS का मार्केट कैप 4,165.14 करोड़ रुपये की कमी के साथ 9,97,984.24 करोड़ रुपये पर रह गया. वहीं, हिंदुस्तान यूनिलीवर का बाजार मूल्यांकन 16,211.94 करोड़ रुपये की गिरावट के साथ 4,98,011.94 करोड़ रुपये रह गया.  

इंफोसिस को भी झटका
  • 5/7

इंफोसिस की बाजार हैसियत में 12,948.61 करोड़ रुपये की गिरावट आई और अब यह 4,69,834.44 करोड़ रुपये पर रह गई. वहीं, आईसीआईसीआई बैंक का बाजार पूंजीकरण 4,455.8 करोड़ रुपये घटकर 3,33,315.58 करोड़ रुपये रह गया. 

इन कंपनियों को फायदा
  • 6/7

वहीं, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी लिमिटेड, बजाज फाइनेंस और भारती एयरटेल के बाजार पूंजीकरण में बढ़ोतरी हुई. एचडीएफसी बैंक का मार्केट कैप 18,827.94 करोड़ रुपये बढ़कर 7,72,853.69 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. एचडीएफसी की बाजार हैसियत 3,938.48 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,19,699.86 करोड़ रुपये पर पहुंच गई.

शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव
  • 7/7

कोटक महिंद्रा बैंक का मार्केट कैप 23,445.93 करोड़ रुपये के उछाल से 3,73,947.2 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया. इसी अवधि में बजाज फाइनेंस का बाजार मूल्यांकन 20,747.08 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 2,84,285.64 करोड़ रुपये और भारती एयरटेल का 1,145.67 करोड़ रुपये बढ़कर 2,63,776.2 करोड़ रुपये पर पहुंच गया.