scorecardresearch
 

एग्‍जिट पोल से पहले बाजार में रौनक, सेंसेक्‍स में 500 अंक की तेजी

लोकसभा चुनाव के एग्‍जिट पोल के नतीजे आने से पहले शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार में जबरदस्‍त तेजी दर्ज की गई. बता दें कि रविवार को लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण की वोटिंग होनी है.

एग्‍जिट पोल के नतीजों से पहले बाजार में रौनक एग्‍जिट पोल के नतीजों से पहले बाजार में रौनक

कई दिनों के उतार-चढ़ाव के बाद सप्‍ताह के अंत में भारतीय शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए. शुक्रवार को सेंसेक्‍स 537 अंक उछलकर 37,930 के स्‍तर पर बंद हुआ तो वहीं निफ्टी 150.05 अंक चढ़कर 11,407.15 अंक पर रहा. इससे पहले कारोबार की शुरुआत भी बढ़त के साथ ही हुई. शुरुआती कारोबार में सेंसेक्‍स 181 अंक चढ़ा और निफ्टी एक बार फिर 11,300 अंक के पार चला गया.

कारोबार के अंत में बजाज फाइनेंस के शेयर में करीब 6 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई. इसके अलावा हीरो मोटोकॉर्प के शेयर में 4 फीसदी से ज्‍यादा की तेजी रही. वहीं मारुति, कोटक बैंक और बजाज ऑटो के शेयर 3 फीसदी से अधिक बढ़त के साथ बंद हुए जबकि एचयूएल के शेयर 2.50 फीसदी बढ़त के साथ बंद हुए. 

ऐसी रही सेंसेक्‍स की चाल

क्‍या है तेजी की वजह

शेयर बाजार में इतनी बड़ी तेजी एग्‍जिट पोल से पहले देखी गई है. दरअसल, रविवार को लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण की वोटिंग है. इस चरण की वोटिंग के बाद से एग्जिट पोल आने शुरू हो जाएंगे. इन एग्‍जिट पोल की वजह से सोमवार को बाजार पर भी असर पड़ सकता है. इसके अलावा कंपनियों के तिमाही नतीजों में मुनाफा होने की वजह से शुक्रवार को बाजार में रौनक बढ़ गई.  

पब्‍लिक सेक्‍टर की इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) का शुद्ध लाभ वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही में 17 फीसदी बढ़कर 6,099.27 करोड़ रुपये रहा. आईओसी ने इससे पहले वित्त वर्ष 2017-18 की इसी तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 5,218.10 करोड़ रुपये था.

कंपनी का कारोबार पिछले वित्त वर्ष की जनवरी-मार्च तिमाही में बढ़कर 1.44 लाख करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले इसी तिमाही में 1.37 लाख करोड़ रुपये था. बता दें कि अमेरिका-चीन के बीच व्यापार मोर्चे पर विवाद से जुड़ी चिंताओं और कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि से रुपया शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में 29 पैसे गिरकर 70.32 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें