scorecardresearch
 

शेयर बाजार सपाट, निफ्टी में गिरावट, सेंसेक्स मामूली बढ़त के साथ बंद

सुबह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 97 अंक बढ़कर 40,890 पर खुला. टैरिफ बढ़ाने का ऐलान करने वाली टेलीकॉम कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त तेजी देखी गई. हालांकि बाद में बाजार ने बढ़त गंवा दी. कारोबार के दौरान दिन भर उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: बीएसई सेंसेक्स 8.36 अंक की मजबूती के साथ 40,802.17 पर बंद हुआ.

शेयर बाजार में तेजी (फाइल फोटो: PTI) शेयर बाजार में तेजी (फाइल फोटो: PTI)

  • BSE का सेंसेक्स 97 अंक बढ़कर 40,890 पर खुला
  • टेलीकॉम कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त तेजी देखी गई
  • अंत में सेंसेक्स में मामूली बढ़त, निफ्टी लाल निशान में

हफ्ते के पहले दिन शेयर बाजार की शुरुआत हरे निशान में हुई है. सुबह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 97 अंक बढ़कर 40,890 पर खुला. टैरिफ बढ़ाने का ऐलान करने वाली टेलीकॉम कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त तेजी देखी गई. हालांकि दोपहर तक बाजार ने बढ़त गंवा दी. कारोबार के दौरान दिन भर उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: बीएसई सेंसेक्स 8.36 अंक की मजबूती के साथ 40,802.17 पर बंद हुआ.

दूसरी तरफ नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी  करीब 8 अंक की गिरावट के साथ 12048 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान करीब 1033 शेयरों में बढ़त और 1481 शेयरों में गिरावट देखी गई है. बढ़ने वाले प्रमुख शेयरों में भारती एयरटेल, जेएसडब्लू स्टील, ग्रासिम इंडस्ट्रीज, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एशियन पेंट्स शामिल हैं, जबकि गिरने वाले प्रमुख शेयरों में यस बैंक, आयशर मोटर्स, बजाज फाइनेंस, भारती इन्फ्राटेल और ओएनजीसी शामिल हैं.

मेटल, इन्फ्रा और एनर्जी छोड़कर बाकी सभी सेक्टर लाल निशान में देखे गए. गिरावट का नेतृत्व आईटी, ऑटो, एफएमसीजी, फार्मा और बैंकिंग सेक्टर ने किया.

एनएसई, बीएसई से निलंबित हुआ कार्वी

एनएसई, बीएसई ने कार्वी की ब्रोकिंग मेंबरशिप को निलंबित कर दिया है. इक्विटी, डेरिवेटिव, कमोडिटी सभी सेगमेंट में कार्वी को ट्रेडिंग से रोक दिया गया है. ग्राहकों की 2,300 करोड़ रुपये की हेराफेरी के मामले में कार्वी पर यह कार्रवाई की गई है.

गौरतलब है कि रविवार को जियो, एयरटेल, वोडाफोन-आइडिया सभी ने अपने प्रीपेड उत्पादों और सेवाओं के लिए टैरिफ में भारी बढ़ोतरी करने का ऐलान किया है. इससे ग्राहकों के मोबाइल बिल में 50 फीसदी तक की बढ़त हो सकती है. इसकी वजह से सोमवार को वोडाफोन-आइडिया के शेयर में 22 फीसदी और भारती एयरटेल के शेयर में 7 फीसदी की बढ़त देखी गई.

यस बैंक में गिरावट

यस बैंक का फंड जुटाने का प्रोग्राम जोश भरने में फेल हो गया है. ये शेयर ऊपरी स्तरों से 8 फीसदी लुढ़क चुका है. इधर ब्रोकरेज हाउसेस ने भी पैसे जुटाने को लेकर सवाल उठाए है.

पिछले हफ्ते बाजार ने छुआ था ऐतिहासिक स्तर

जीडीपी में गिरावट आशंका की वजह से सप्‍ताह के आखिरी कारोबारी दिन यानी शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार में जबरदस्‍त बिकवाली देखने को मिली थी. इसका नतीजा ये हुआ कि कारोबार के अंत में सेंसेक्‍स 336.36 अंक लुढ़क कर 40,793.81 अंक पर बंद हुआ तो वहीं निफ्टी 95.10 अंक की गिरावट के साथ 12,056.05 अंक के स्‍तर पर रहा. वहीं कारोबार के दौरान सेंसेक्‍स 400 अंक से अधिक लुढ़क गया.

बता दें कि गुरुवार को सेंसेक्‍स और निफ्टी ने अब तक के उच्‍चतम स्‍तर को टच किया था. गुरुवार को कारोबार के दौरान सेंसेक्‍स 41 हजार 163 अंक और निफ्टी 12,158.80 अंक के सबसे उच्‍चतम स्‍तर को पार कर लिया.

इस हफ्ते मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक पर रहेगी नजर

देश के शेयर बाजार में इस सप्ताह निवेशकों की नजर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक पर रहेगी. इसके अलावा बाजार की दिशा तय करने में प्रमुख आर्थिक आंकड़ों की अहम भूमिका होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें