scorecardresearch
 

RBI बैठक के नतीजों से निराश हुआ बाजार, सेंसेक्‍स 70 अंक लुढ़क कर बंद

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने उम्‍मीदों को झटका देते हुए रेपो रेट में कटौती नहीं की है. वहीं जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को भी घटा दिया है.

आरबीआई ने जीडीपी ग्रोथ का अनुमान घटा दिया है आरबीआई ने जीडीपी ग्रोथ का अनुमान घटा दिया है

  • RBI ने जीडीपी ग्रोथ अनुमान को घटा दिया है
  • हालांकि RBI ने रेपो रेट में कटौती नहीं की है

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की मौद्रिक नीति बैठक के नतीजों का ऐलान किया जा चुका है. इस बार उद्योग और पूंजी बाजार की उम्मीदों को झटका देते हुए आरबीआई ने रेपो रेट में कटौती नहीं की है. वहीं केंद्रीय बैंक ने जीडीपी ग्रोथ अनुमान को भी घटा दिया है.

आरबीआई के इस फैसले की वजह से निवेशकों में निराशा का माहौल देखने को मिला. यही वजह है कि सप्‍ताह के चौथे कारोबारी दिन गुरुवार को सेंसेक्‍स और निफ्टी ने अपनी बढ़त गंवा दी. शुरुआती कारोबार में  41 हजार के आंकड़े को पार करने के बाद अंत में सेंसेक्‍स 70.70 अंक लुढ़क कर 40 हजार 779 के स्‍तर पर आ गया. इस लिहाज से 250 अंक से अधिक की गिरावट है. वहीं निफ्टी 24.80 अंक की गिरावट के साथ 12,018 अंक पर बंद हुआ.

बीएसई इंडेक्‍स की बात करें तो टीसीएस और आईटीसी के अलावा एलएंडटी और इन्‍फोसिस के शेयर टॉप गेनर रहे. वहीं सबसे अधिक गिरावट एयरटेल के शेयर में रही. टाटा स्‍टील, इंडसइंड बैंक, टाटा मोटर्स, हीरो मोटोकॉर्प, एसबीआई, सनफार्मा और यस बैंक के शेयर भी लाल निशान पर बंद हुए.

आरबीआई की बैठक में क्‍या हुआ फैसला?

भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति की समीक्षा बैठक के नतीजों का ऐलान गुरुवार को हुआ. आरबीआई ने इस बार रेपो रेट में कटौती नहीं की है और यह 5.15 फीसदी पर बरकरार है. हालांकि इसके पहले आरबीआई ने लगातार पांच बार रेपो रेट में कटौती की थी. इसके अलावा आरबीआई ने जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को 6.1 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दिया है. वहीं रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही की महंगाई दर का अपना अनुमान बढ़ाकर 5.1 - 4.7 फीसदी के बीच कर दिया. इससे पहले यह 3.5- 3.7 फीसदी रखा गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें