scorecardresearch
 

मई तक इंडिगो और गो एयर बदलेंगे विमानों के इंजन, DGCA का फरमान बना वजह

इंडिगो के पास 106 ए-320 नियो एयर क्राफ्ट हैं, जबकि गो एयर के पास 43 ऐसे विमान हैं. इन विमानों में प्रैट और व्हिटनी इंजन लगे हैं. बता दें कि जबसे इन कंपनियों ने प्रैट और व्हिटनी इंजन लगा है. इन विमानों में लगातार गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं.

X
इंडिगो एयरलाइंस (फाइल फोटो)
इंडिगो एयरलाइंस (फाइल फोटो)

  • इंडिगो और गो एयर बदेलेंगे इंजन
  • इंजन में आ रही थी तकनीकी समस्या
विमानन नियामक संस्था डीजीसीए ने कहा कि इंडिगो- गो एयर अपने पुराने इंजन प्रैट और व्हिटनी (PW) में बदलाव करने वाले हैं. समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक दोनों विमान कंपनियां अपने विमान ए-320 नियो प्लेन में मोडिफाइड इंजन लगाएंगे. ये काम इस साल मई अंत तक पूरा हो सकता है.

इंडिगो के पास 106 ए-320 नियो एयर क्राफ्ट हैं, जबकि गो एयर के पास 43 ऐसे विमान हैं. इन विमानों में प्रैट और व्हिटनी इंजन लगे हैं. बता दें कि जबसे इन कंपनियों ने प्रैट और व्हिटनी इंजन लगा है. इन विमानों में लगातार गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं.

लो प्रेशर टरबाइन की समस्या से जूझ रहे विमान

इन गड़बड़ियों को विमानन तकनीकी भाषा में LPT यानी कि लो प्रेशर टरबाइन फेल्योर कहा जाता है. इंडिगो में ये समस्या बार-बार आ रही थी. इसके डीजीसीए ने पिछले साल एक नवंबर को इंडिगो को कहा था कि वो 31 जनवरी तक अपने सारे इंजन को आधुनिक इंजन से बदल ले. हालांकि डीजीसीए ने बाद में इंजन बदलने की मियाद बढ़ाकर 30 मई तक कर दी.

पढ़ें- मोदी सरकार के लिए इकोनॉमी की एक साथ दो नेगेटिव खबरें, सुस्ती में कोरोना ने बढ़ाई परेशानी

180 विमानों का बदला जाएगा इंजन

मंगलवार को डीजीसीए ने कहा कि प्रैट और व्हिटनी कंपनी मुंबई में एअर इंडिया के सहयोग से एक मेंटेनेंस, रिपेयर और ओवरहॉल संस्था स्थापित करने वाली है. इस जगह पर LPT इंजनों को बदला जा सकेगा.

डीजीसीए के महानिदेशक ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, "इससे अपग्रेडेशन में लगने वाला वक्त काफी कम हो जाएगा, ये संस्थान जल्द ही काम करने लगेगा. डीजीसीए ने कहा कि यहां पर 180 नए इंजन को पुराने इंजनों के साथ बदला जाएगा, इसमें से 90 इंजनों को बदलने का काम पूरा होने को है. बाकी का काम मई में पूरा होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें