scorecardresearch
 

HDFC का होम लोन हुआ सस्‍ता, पुराने ग्राह‍कों को भी मिलेगा फायदा

हाउसिंग लोन कंपनी एचडीएफसी लिमिटेड ने ब्याज दर 0.05 फीसदी कम कर दी है. इसका फायदा नए और पुराने ग्राहकों को मिलेगा.

X
एचडीएफसी लिमिटेड ने ब्याज दर 0.05 फीसदी कम कर दी एचडीएफसी लिमिटेड ने ब्याज दर 0.05 फीसदी कम कर दी

  • HDFC लिमिटेड ने ब्याज दर 0.05 फीसदी कम करने की घोषणा की
  • HDFC की दरें नए और पुराने दोनों तरह के ग्राहकों के लिए लागू होंगी

अगर आप होम लोन लेने की सोच रहे हैं तो आपके लिए एक अच्‍छी खबर है. दरअसल, हाउसिंग लोन कंपनी HDFC लिमिटेड ने ब्याज दर 0.05 फीसदी कम करने की घोषणा की है.

कंपनी की ओर से जारी बयान में बताया गया है, "HDFC ने हाउसिंग लोन पर रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट (आरपीएलआर) को कम कर दिया है. इसके बाद एडजस्टेबल रेट होम लोन (ARHL) 0.05 फीसदी कम हो गया है. ये संशोधित रेट 6 जनवरी से लागू होगा." यहां बता दें कि HDFC अपने होम लोन पर रेट्स को रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट के आधार पर तय करता है. बहरहाल, HDFC की नई दरें 8.20 फीसदी से नौ फीसदी के दायरे में रहेंगी. वहीं बैंक का यह फैसला नए और पुराने दोनों तरह के ग्राहकों के लिए लागू होगा.

SBI ने भी ब्‍याज दर में की है कटौती

इससे पहले भारतीय स्टेट बैंक ने भी होम और ऑटो लोन पर ब्‍याज दरें कम कर दी हैं. अब नए मकान खरीदने वालों को बैंक 7.90 फीसदी की ब्याज दर पर लोन देगा. पहले ब्याज दर 8.15 फीसदी थी. बैंक ने एक्सटर्नल बेंचमार्क बेस्ड रेट (EBR) को 8.05 फीसदी से घटाकर 7.80 फीसदी कर दिया है. यह एक आधार दर है जो इस बात का सूचक होता है कि लोन की दर इससे कम नहीं हो सकती.

रेपो रेट में इस बार नहीं हुई थी कटौती

बीते दिसंबर महीने में आरबीआई की मौद्रिक समीक्षा बैठक में रेपो रेट कटौती नहीं की गई थी. हालांकि, इससे पहले लगातार 5 बार रेपो रेट पर आरबीआई ने कैंची चलाई थी लेकिन बैंकों ने उम्‍मीद के मुताबिक इस कटौती का फायदा ग्राहकों को नहीं पहुंचाया. बता दें कि रेपो रेट के आधार पर ही बैंकों को अपने एक्सटर्नल बेंचमार्क रेट में हर तीन महीने में एक बार बदलाव करनी होती है. भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा तय रेपो रेट 5.15 फीसदी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें