scorecardresearch
 

फेसबुक, ट्विटर के जरिए विनिवेश को आगे बढ़ाएगा वित्त मंत्रालय

केंद्र की मोदी सरकार अपने कामकाज का विस्तार करने में सोशल मीडिया का भरपूर इस्तेमाल तो पहले से ही करती रही है. अब सरकार विनिवेश से जुड़े प्रोग्राम के प्रति रुचि बढ़ाने के लिए भी फेसबुक व ट्विटर का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल करने जा रही है.

केंद्र की मोदी सरकार अपने कामकाज का विस्तार करने में सोशल मीडिया का भरपूर इस्तेमाल तो पहले से ही करती रही है. अब सरकार विनिवेश से जुड़े प्रोग्राम के प्रति रुचि बढ़ाने के लिए भी फेसबुक व ट्विटर का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल करने जा रही है. SAIL के विनिवेश को लेकर जबरदस्त उत्साह

इसके पीछे सरकार का इरादा निवेशकों, धनकुबेरों और अन्य लोगों के बीच विनिवेश कार्यक्रम के प्रति उत्साह बढ़ाने का है. वित्त मंत्रालय का विनिवेश विभाग जल्द ही इस काम के लिए किसी विज्ञापन या पीआर एजेंसी को काम सौंपेगा. विनिवेश विभाग ने कहा कि यह एजेंसी सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में सरकार की हिस्सेदारी की बिक्री IPO, FPO, OFS के जरिए करने के लिए विज्ञापन व पीआर का काम करेगी.

प्रिंट और टीवी के अलावा एजेंसी विनिवेश के बारे में जानकारी देने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल करेगी. सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर विनिवेश के बारे में जागरूक करने के लिए एजेंसी टेक्स्ट और वॉयस सेवाओं का इस्तेमाल करेगी. इसके अलावा वह न्यूज फीड, ब्लॉग व चैट शोज के जरिए भी पीआर प्रोसेस को आगे बढ़ाएगी.

साल 2015 में सरकार अपने 50,000 करोड़ रुपये के शेयरों को बिक्री के लिए पेश कर सकती है. इसमें सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में हिस्सेदारी के अलावा कुछ निजी क्षेत्र की इकाइयों में शेष हिस्सेदारी की बिक्री शामिल है.

---इनपुट भाषा से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें