scorecardresearch
 

जून में औद्योगिक उत्पादन में 16.6% की गिरावट, कोरोना संकट के बीच मई के मुकाबले बेहतर आंकड़े

कोरोना संकट के बीच औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ों में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है. हालांकि सालाना आधार पर जून में औद्योगिक उत्पादन में 16.6 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.

औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ों में सुधार (Photo: File) औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ों में सुधार (Photo: File)

  • मई के मुकाबले जून महीने के आंकड़ों में सुधार
  • जून 2019 में 1.3 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज हुई थी

कोरोना संकट के बीच औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ों में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है. हालांकि सालाना आधार पर जून में औद्योगिक उत्पादन में 16.6 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. जून 2019 में 1.3 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक मुख्य रूप से विनिर्माण, खनन और बिजली उत्पादन कम रहने से औद्योगिक उत्पादन में गिरावट आई.

दरअसल केंद्र सरकार ने मंगलवार को जून 2020 का औद्योगिक उत्पादन का आंकड़ा जारी कर दिया. मई के मुकाबले जून में आंकड़ा सुधरा है. मई 2020 में औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ों में 33.9 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी.

महीने दर महीने आंकड़ों में सुधार

अगर सेक्टर की बात करें तो जून 2020 में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में 17.1 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई, जबकि पिछले साल की समान अवधि में 0.3 फीसदी का इजाफा हुआ था. वहीं माइनिंग सेक्टर की बात करें तो जून-2020 में 19.8 फीसदी की गिरावट देखी गई, जबकि जून 2019 में माइनिंग सेक्टर में 1.5 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी. वहीं, बिजली उत्पादन जून 2020 में 10 फीसदी कम हुई. पिछले साल जून में बिजली उत्पादन में 8.6 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी.

इसे पढ़ें: चीन का भ्रमजाल, कहा- Boycott China फ्लॉप, खूब आयात कर रहा भारत!

सांख्यिकी मंत्रालय के मुताबिक कोरोना महामारी के बाद के महीनों के आईआईपी को कोरोना वायरस संक्रमण के पूर्व महीनों से तुलना करना उपयुक्त नहीं है. कोरोना संकट के बीच आंकड़ों में तेजी से सुधार हो रहा है. अप्रैल में सूचकांक 53.6 था, जो मई में सुधरकर 89.5 और जून में 107.8 रहा.

इसे भी पढ़ें: सऊदी अरामको का बड़ा बयान, RIL के साथ डील पर चल रही बात

इन आंकड़ों के मुताबिक लॉकडाउन के बाद देश की अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटती नजर आ रही है. देश में उद्योग एक बार फिर से उत्पादन की पटरी पर लौट रहे हैं. अप्रैल, मई के मुकाबले जून के आंकड़े बेहतर सामने आए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें