scorecardresearch
 

कोरोना काल में OYO ने कर्मचारियों को दी राहत, नहीं होगी सैलरी में कटौती

आठ लाख रुपये तक की वार्षिक आय वाले कर्मचारियों की वेतन कटौती एक अगस्त से वापस ली जा रही है.

कर्मचारियों के लिए राहत कर्मचारियों के लिए राहत

  • कोरोना संकट की वजह से कटौती का लिया था फैसला
  • 8 लाख सालाना कमाई वाले कर्मचारियों को मिली राहत

ऑनलाइन होटल बुकिंग सेवा देने वाली प्रमुख कंपनी ओयो (Oyo) के कर्मचारियों की सैलरी में कटौती नहीं होगी. कंपनी भारत और दक्षिण एशिया में अपने नियमित कर्मचारियों को एक अगस्त से पूरा वेतन देगी. आपको बता दें कि कोविड-19 संकट के चलते कंपनी ने कर्मचारियों के वेतन में कटौती या बिना वेतन की छुट्टी पर भेजने जैसे कदम उठाए थे.

8 लाख की इनकम वालों को राहत

ओयो के एक प्रवक्ता ने कहा कि आठ लाख रुपये तक की वार्षिक आय वाले कर्मचारियों की वेतन कटौती एक अगस्त से वापस ली जा रही है. बाकी कर्मचारियों की वेतन कटौती भी अक्टूबर 2020 से चरणबद्ध तरीके से वापस ली जाएगी.

22 अप्रैल को हुआ था ऐलान

ओयो ने 22 अप्रैल को भारत मे अपने कुछ कर्मचारियों को 4 मई से बिना वेतन की छुट्टी पर भेजने की घोषणा की थी. उन्हें चार महीने के लिए छुट्टी पर भेजा गया था. वहीं, सभी कर्मचारियों के अप्रैल-जुलाई 2020 के वेतन में 25 प्रतिशत कटौती के लिए भी कहा था. कर्मचारियों ने कहा कि 25 प्रतिशत वेतन कटौती का 12.5 प्रतिशत अक्टूबर से मिलना शुरू होगा जबकि बाकी बचा 12.5 प्रतिशत दिसंबर 2020 से.

ये पढ़ें—रोजगार पर एक और झटका, खतरे में OYO के सैकड़ों कर्मचारियों की नौकरी

आपको बता दें कि हाल ही में ओयो ने डब्ल्यू. स्टीव अलब्रेश्ट को अपने निदेशक मंडल में गैर-कार्यकारी निदेशक के तौर पर नियुक्त किया है. अलब्रेश्ट कंपनी के लिए सलाहकार के तौर पर काम कर रहे हैं. वह महत्वपूर्ण निर्णयों पर कंपनी के संस्थापक और प्रबंधन को सलाह देंगे.

ओयो के पास 1 लाख से ज्यादा कमरे

ओयो ऐप के जरिए होटल बुकिंग की सुविधा देती है. कंपनी के पास एक लाख से अधिक कमरे हैं और इसके नेटवर्क का लगातार विस्तार हो रहा है. ओरावल नाम से शुरू हुई वेबसाइट का नाम साल 2013 में ओयो रूम्‍स कर दिया गया. इसकी शुरुआत रितेश अग्रवाल ने की थी. बेहद कम समय में इस स्‍टार्टअप को पहचान और सॉफ्टबैंक का समर्थन भी मिल गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें