scorecardresearch
 

Vietjet Offer: विदेश घूमने वालों की लगी लॉटरी, महज 9 रुपये में मिल रहा वियतनाम का टिकट

भारत से वियतनाम की डाइरेक्ट फ्लाइट को 5 से 6 घंटे लगते हैं. वहीं बैंकॉक होकर जाने वाली उड़ानों को भारत से वियतनाम पहुंचने में 10 से 12 घंटे लगते हैं. अभी वियतजेट और इंडिगो जैसी कंपनियों दोनों देशों के विभिन्न शहरों के बीच हर सप्ताह दर्जनों उड़ानें संचालित कर रही हैं. भारत से हर साल काफी पर्यटक वियतनाम जाते हैं.

X
वियतजेट का खास ऑफर
वियतजेट का खास ऑफर

इस फेस्टिव सीजन (Festive Season) में विदेश यात्रा की योजना बना रहे लोगों के लिए एक अच्छी खबर है. आप यह शौक महज नौ रुपये में पूरा कर सकते हैं. दरअसल वियतनाम की विमानन कंपनी वियतजेट (Vietjet Offer) ने एक खास ऑफर की शुरुआत की है. इस खास ऑफर के तहत आप महज 9 रुपये में भारत से वियतनाम का हवाई सफर कर सकते हैं. हालांकि कंपनी का यह ऑफर सीमित समय और सीमित ग्राहकों के लिए है.

दोनों देशों के इन शहरों के बीच सीधी उड़ान

कंपनी का यह ऑफर 15 अगस्त से शुरू हुआ है और 26 मार्च तक चालू रहेगा. इसके तहत वियतजेट 30 हजार प्रमोशनल टिकट महज 9 रुपये में ऑफर कर रही है. यह ऑफर दिल्ली (Delhi), मुंबई (Mumbai), अहमदाबाद (Ahmedabad) और हैदराबाद (Hyderabad) समेत 17 रुट्स के लिए उपलब्ध है. इसके तहत वियतनाम की राजधानी हनोई (Hanoi) समेत हो चि मिन्ह (Ho CHi Minh), दा नांग (Da Nang) और फू क्यूओक (Phu Quoc) शहरों की यात्रा की जा सकती है. वियतजेट अभी दिल्ली और मुंबई से हनोई और हो चि मिन्ह शहरों के लिए हर सप्ताह 4 फ्लाइट संचालित करती है. अगले महीने यानी सितंबर 2022 से कंपनी 11 अतिरिक्त रुट्स पर भी उड़ानों का संचालन शुरू कर देगी.

इस कार्यक्रम में तैयार हुआ नया खाका

वियतनाम के हो चि मिन्ह शहर में 17 अगस्त को इंडिया-वियतनाम टूरिज्म प्रमोशन कॉन्फ्रेंस (India-Vietnam Tourism Promotion Conference) का आयोजन हुआ था. उस कार्यक्रम में दोनों देशों के सरकारी अधिकारियों को इंडस्ट्री के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था. कॉन्फ्रेंस में इस बात पर चर्चा की गई थी कैसे वियतनाम में भारत से टूरिज्म को बढ़ाया जाए. कार्यक्रम का आयोजन हो चि मिन्ह सिटी में भारत के काउंसलेट जनरल ने किया था. उसमें वियतनाम नेशनल एडमिनिस्ट्रेशन ऑफ टूरिज्म (Vietnam National Administration of Tourism) के वाइस चेयरमैन फाम वान थूय (Pham Van Thuy) और वियतनाम में भारत के राजदूत प्रणय वर्मा भी शामिल हुए थे.

इंडिगो भी चला रही कई सीधी उड़ानें

कार्यक्रम में दोनों देशों की 34 कंपनियों ने हिस्सा लिया. कंपनियों ने माना कि दोनों देशों की ट्रैवल फर्मों का आपसी बिजनेस कनेक्शन वियतनाम के टैवल मार्केट की ग्रोथ के लिए जरूरी है. आपको बता दें कि वियतनाम लगातार भारतीय पर्यटकों को अपने यहां बुलाने के लिए मुहिम चलाते आया है. भारत से वियतनाम की डाइरेक्ट फ्लाइट को 5 से 6 घंटे लगते हैं. वहीं बैंकॉक होकर जाने वाली उड़ानों को भारत से वियतनाम पहुंचने में 10 से 12 घंटे लगते हैं. अभी वियतजेट और इंडिगो जैसी कंपनियों दोनों देशों के विभिन्न शहरों के बीच हर सप्ताह दर्जनों उड़ानें संचालित कर रही हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें