scorecardresearch
 

भारत में Tesla कैसे सस्ती बेचे अपनी इलेक्ट्र‍िक कार? कंपनी ने PM मोदी से लगाई ये गुहार!

Tesla Inc ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय (PMO) को लेटर लिखा है. Tesla ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि उसके भारत में कार लॉन्च करने से पहले इलेक्ट्र‍िक वाहनों पर आयात कर (import taxes)  में कटौती की जाए. 

Tesla की कारें आयात होकर आएंगी (फाइल फोटो) Tesla की कारें आयात होकर आएंगी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • टेस्ला की कारों का लोगों को इंतजार
  • टेस्ला की कारें काफी महंगी होती हैं

Tesla की इलेक्ट्रिक कार की भारत में लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. लेकिन इसकी कारों की कीमत काफी ज्यादा है और आयात कर के बाद तो भारत में यह काफी महंगी हो जाएगी. इसकी कीमत कैसे कम हो, इसे लेकर कंपनी तरह-तरह के प्रयास कर रही है. इसके लिए टेस्ला ने प्रधानमंत्री कार्यालय को लेटर लिखकर इलेक्ट्र‍िक कारों पर आयात कर घटाने की मांग की है. 

Tesla Inc ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय को लेटर लिखा है. Tesla ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि उसके भारत में कार लॉन्च करने से पहले इलेक्ट्र‍िक वाहनों पर आयात कर (import taxes)  में कटौती की जाए. 

क्या कहना है कंपनी का 

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है. हालांकि टेस्ला की इस मांग का कई भारतीय कंपनियां विरोध कर रही हैं. Tesla भारत में अपनी कारें आयात कर बेचना चाहती है. टेस्ला का कहना है कि भारत में आयात कर दुनिया में सबसे ज्यादा है. 

घरेलू कंपनियों का विरोध 

दूसरी तरफ भारतीय ऑटो कंपनियों का कहना है कि अगर कारों पर आयात कर में कटौती की गई तो इससे घरेलू मैन्युफैक्चरिंग को नुकसान होगा.

रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि Tesla के इंडिया पॉलिसी हेड मनुज खुराना के नेतृत्व में कंपनी के डेलिगेशन की पिछले महीने प्रधानमंत्री कार्यालय के अध‍िकारियों के साथ बंद कमरे में मुलाकात हुई थी. इसमें कंपनी के प्रतिनिध‍ियों ने कहा कि भारत में आयात कर काफी ज्यादा है. उन्होंने सरकार से इसे घटाने का आग्रह किया. 

क्या हुआ मीटिंग में 

इस मीटिंग के दौरान टेस्ला के अध‍िकारियों ने कहा कि भारत में कर का जो मौजूदा ढांचा है, उसकी वजह से भारत में उसके लिए कारोबार मुश्किल होगा. 

गौरतलब है कि भारत में 40,000 डॉलर (करीब 29.90 लाख रुपये) उससे कम कीमत की विदेशी इलेक्ट्र‍िक कारों पर 60 फीसदी की इम्पोर्ट ड्यूटी लगाई जाती है. यही नहीं 40,000 डॉलर से ऊपर की कीमत की कारों पर 100 फीसदी इम्पोर्ट ड्यूटी लगती है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें