scorecardresearch
 

इस बैंक ने पेश किए शानदार तिमाही नतीजे, शेयर बना Rocket, 8 फीसदी की तेजी

IndusInd Bank का मुनाफा सालाना आधार पर 61 फीसदी बढ़ा है. यह उछलकर 1,631.02 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. इससे पहले बीते वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक ने 1,016.11 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था.

X
इंडसइंड का शेयर बना Rocket इंडसइंड का शेयर बना Rocket
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गुरुवार को तेजी के साथ 950.50 रुपये पर पहुंचा भाव
  • नतीजों के मुताबिक, बैंक को हुआ 61 फीसदी मुनाफा

इंडसंइड बैंक के शेयर (IndusInd Bank Share) निवेशकों में रॉकेट सी तेजी देखने को मिल रही है. एक दिन पहले बुधवार को ही बैंक ने अपने तिमाही नतीजों का ऐलान किया था. शानदार नतीजों का असर इसके शेयरों पर दिखाई दिया और यह 8 फीसदी से ज्यादा उछल गया. गौरतलब है कि बैंक को सालाना आधार पर 61 फीसदी का तगड़ा मुनाफा हुआ है.

गुरुवार को 8% से ज्यादा तेजी
कंपनी को हुए मुनाफे के बाद बैंक के शेयरों को लेकर ब्रोकरेज हाउस की धारणा में बदलाव हुआ है और इसे लेकर पॉजिटिव रुख दिखा रहे हैं. इसका असर गुरुवार को IndusInd Bank के शेयरों पर दिखाई दिया. दिनभर के कारोबार के अंत में इसके 8.10 फीसदी की तेजी लेते हुए 950.50 रुपये के स्तर पर बंद हुए. इस उछाल के साथ शेयर के भाव में 71.20 रुपये की बढ़ोतरी हुई है. 

यहां पहुंचेगी शेयर की कीमत
ब्रोकरेज हाउसों के टारगेट की बात करें तो IndusInd Bank के शेयर निवेशकों को आगे भी अच्छा रिटर्न दे सकते हैं. इस शेयर को खरीदने की सलाह देते हुए उन्होंने कहा है कि शेयर की कीमत में तेजी यहीं नहीं थमने वाली, बल्कि यह 1270 रुपये तक पहुंच सकती है. यानी निवेशकों के लिए इंडसइंड बैंक का शेयर फायदे का सौदा साबित हो सकता है. 

Bad Loan कम होने का असर
बैड लोन के घटने से बीती जून तिमाही में IndusInd Bank का मुनाफा सालाना आधार पर 61 फीसदी बढ़ा है. यह उछलकर 1,631.02 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. इससे पहले बीते वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक ने 1,016.11 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था. बैंक की कुल आय की बात करें तो अप्रैल-जून 2022 तिमाही में यह बढ़कर 10,113.29 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पहले समान तिमाही में 9,298.07 करोड़ रुपये थी. 

NPA घटकर इस स्तर पर आया
जून महीने के अंत तक इंडसइंड बैंक के ग्रॉस एनपीए में भी अच्छा सुधार देखने को मिला है. पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही की तुलना में इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में बैंक का NPA घट गया है. नतीजों को देखें तो ग्रॉस एनपीए 2.35 फीसदी रह गया, जो जून, 2021 तक 2.88 फीसदी था. बैंक का नेट एनपीए 0.84 फीसदी रहा. वहीं बैंक की ब्याज से होने वाली इनकम 9.5 फीसदी बढ़कर 8,181.77 करोड़ रुपये पर पहुंच गई.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें