scorecardresearch
 

उधार लेकर शॉपिंग करने में भारतीय आगे, क्रेडिट कार्ड का खर्च साल भर में 118% बढ़ा

ICICI सिक्योरिटीज की रिपोर्ट में कहा गया है कि जुलाई 2022 में क्रेडिट कार्ड के जरिए होने वाला खर्च अपने ऑल टाइम हाई पर पहुंच गया. भारतीय क्रेडिट कार्ड से उधार लेकर किस कदर खरीदारी कर रहे हैं, इसका अंदाजा इससे लगा सकते हैं कि इससे होने वाला खर्च डेबिट कार्ड से खर्च राशि का 1.8 गुना ज्यादा है.

X
उधार लेकर शॉपिंग करने में भारतीय आगे
उधार लेकर शॉपिंग करने में भारतीय आगे

दुनिया के विकसित देशों के लोगों की तरह, अब भारतीय भी उधार लेकर पैसे खर्च करने के मामले में आगे बढ़ते जा रहे हैं. इसकी गवाही दे रहा है देश में क्रेडिट कार्ड (Credit Card) से होने वाले खर्च का बढ़ता आंकड़ा. एक रिपोर्ट में सामने आया है कि मार्च 2022 से लेकर जुलाई 2022 तक लगातार 5 महीनों में भारतीयों ने हर महीने 1 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा उधार के पैसे खर्च किए हैं.

जुलाई में रिकॉर्ड तोड़ खर्च
ICICI सिक्योरिटीज की एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है. इसमें क्रेडिट कार्ड से हुई शॉपिंग (Credit Card Shopping) के आंकड़े सामने रखे गए हैं, जो चौंकाने वाले हैं. साथ ही इन्हें देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारतीय (Indians) इस मामले में अन्य देशों को भी पीछे छोड़ते जा रहे हैं. रिपोर्ट में कहा गया कि जुलाई 2022 में लोगों ने क्रेडिट कार्ड से 1.17 लाख करोड़ रुपये की खरीदारी की. यह अब तक किसी 1 महीने में क्रेडिट कार्ड से हुई सबसे बड़ी खरीदारी है.

118 फीसदी का इजाफा हुआ
इससे पहले Credit Card के जरिए जून 2022 में 1.09 करोड़ रुपये की खरीदारी की गई थी. रिजर्व बैंक के आंकड़ों पर नजर डालें तो क्रेडिट कार्ड शॉपिंग की दर में 118 फीसदी का इजाफा हुआ है. ICICI सिक्योरिटीज के अनुसार, बीते साल मई 2021 में महज 52 हजार 200 करोड़ रुपये की खरीदारी क्रेडिट कार्ड के जरिए की गई थी.  

टूरिज्म पर क्रेडिट कार्ड से खर्च ज्यादा 
कोरोना महामारी (Corona Pandemic) का प्रकोप घटने के बाद क्रेडिट कार्ड से किए जाने वाला खर्च जिन सेगमेंट्स में सबसे ज्यादा बढ़ा है, उनमें सबसे ऊपर है पर्यटन (Tourism)। रिपोर्ट के मुताबिक लोगों ने कोरोना के बाद यात्राओं (Travel) पर सबसे ज्यादा पैसा खर्च किया है. कोरोना के दौरान लोग घरों में कैद रहे, लेकिन महामारी का असर कम होते ही बाजारों में आवाजाही बढ़ गई.

इसके साथ ही बड़ी संख्या में लोग घूमने निकल रहे हैं. इन सब खर्चों के लिए लोग क्रेडिट कार्ड का जमकर इस्तेमाल कर रहे हैं. अब शादियों और फेस्टिव सीजन में ये आंकड़ा और बढ़ने की संभावना है. 

6 करोड़ से ज्यादा क्रेडिट कार्ड होल्डर
देश में क्रेडिट कार्ड से खर्च का आंकड़ा जिस तेजी से बढ़ रहा है. उसी रफ्तार से क्रेडिट कार्ड होल्डर्स (Credit Card Holders) की संख्या में भी इजाफा हो रहा है. साल 2021 के आखिर तक देश में क्रेडिट कार्ड होल्डर्स की संख्या का जो आंकड़ा उपलब्ध है उसके मुताबिक, कुल 6 करोड़ 20 लाख लोगों के पास क्रेडिट कार्ड है.

हालांकि, इनमें से महज 22 फीसदी ही नियमित तौर पर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं. बता दें भारतीयों के पास सबसे ज्यादा क्रेडिट कार्ड HDFC बैंक के हैं. वहीं महंगी खरीदारी में उपयोग होने वाले क्रेडिट कार्ड के मामले में इंडसइंड बैंक को पीछे छोड़कर बैंक ऑफ बड़ौदा अब पहले नंबर पर आ गया है.
 
उधार ना चुकाने वालों की तादाद बढ़ी!
एक ओर जहां क्रेडिट कार्ड से उधार लेकर किए जाने वाले खर्च में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है, तो वहीं इस उधार को चुकाने के मामले में कार्ड होल्डर्स पिछड़ते जा रहे हैं. ICICI सिक्योरिटीज के मुताबिक, दिसंबर 2021 में जहां प्रति क्रेडिट कार्ड औसत बकाया 18 हजार रुपये था, वो 22 जून 2022 को बढ़कर 19 हजार 400 रुपये हो गया.

रिपोर्ट में बताया गया कि मई 2022 तक कुल क्रेडिट कार्ड्स में से 23.2 फीसदी पर बकाया है. इसके अलावा क्रेडिट कार्ड से खर्च हो रही रकम, डेबिट कार्ड से हुई खरीदारी के मुकाबले 1.8 गुना ज्यादा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें