scorecardresearch
 

पेट्रोल पंप कैसे खोलें? लाइसेंस और बाकी चीजों पर होगा इतना खर्च, फिर हर लीटर पर कमीशन

पेट्रोल पंप के बिजनेस (Petrol Pump Business) को पूरी दुनिया में मुनाफे का बिजनेस माना जाता है. आर्थिक गतिविधियों को जारी रखने के लिए देश के हर कोने में पेट्रोल पंप खोलने का काम पेट्रोलियम कंपनियां करती हैं. इसके लिए कंपनियां लाइसेंस जारी करती हैं. किसी नए क्षेत्र में पेट्रोल पंप खोलने के लिए ऑयल कंपनी विज्ञापन प्रकाशित करती है.

X
पेट्रोल पंप कैसे खोलें?
पेट्रोल पंप कैसे खोलें?

हमारे देश में पेट्रोल-डीजल (Petrol Diesel) की मांग बड़े पैमाने पर है. पेट्रोल-डीजल के बिना इस दौर की कल्पना करना बेहद ही मुश्किल है. अगर एक दिन के लिए किसी शहर में पेट्रोल पंप (Petrol Pump) यूनियन ईंधन की बिक्री बंद कर देते हैं, तो उस शहर की रफ्तार ठप हो जाती है. यातायात के साधन बंद होने से आम-जन जीवन बुरी तरह से प्रभावित होता है. इसलिए पेट्रोल और डीजल की डिमांड बहुत है.

पेट्रोल पंप के बिजनेस (Petrol Pump Business) को पूरी दुनिया में मुनाफे का बिजनेस माना जाता है. आर्थिक गतिविधियों को जारी रखने के लिए देश के हर कोने में पेट्रोल पंप खोलने का काम पेट्रोलियम कंपनियां करती हैं. इसके लिए कंपनियां लाइसेंस जारी करती हैं.

कौन खोल सकता है पेट्रोल पंप?

देश में BPCL, HPCL, IOCl, रिलायंस, एस्सार ऑयल जैसी पब्लिक और प्राइवेट ऑयल कंपनियों द्वारा पेट्रोल पंप खोलने के लिए लाइसेंस जारी किए जाते हैं. 21 साल की उम्र से लेकर 55 साल की उम्र वाला कोई भी भारतीय नागरिक पेट्रोल पंप खोल सकता है. अगर कोई शहरी इलाके में पेट्रोल पंप खोल रहा है, तो उसे 12वीं पास होना जरूरी है, जबकि ग्रमीण इलाकों में फ्यूल स्टेशन खोलने के लिए 10वीं पास होना जरूरी है.

कितना पैसा करना होगा निवेश?

चूंकि पेट्रोल पंप का कारोबार मोटा मुनाफा वाला है, तो ऐसे में इसके लिए मोटा पैसा निवेश भी करना पड़ता है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अगर कोई ग्रामीण इलाकों में पेट्रोल पंप खोलना चाहता है, तो उसे करीब 15 लाख रुपये निवेश करने होंगे. वहीं, शहरी इलाके में पेट्रोल पंप खोलने के लिए 30-35 लाख रुपये निवेश करना होगा.

कैसे अलॉट किए जाते हैं पेट्रोल पंप?

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, पेट्रोलियम कंपनी अपनी अपनी फील्ड टीम द्वारा किए गए रिसर्च के आधार पर किसी भी स्थान पर रिटेल आउटलेट स्थापित करती हैं. अगर जगह बिजनेस के लिए मुफीद पाया जाता है, तो उसे कंपनी के मार्केटिंग प्लान में शामिल कर लिया जाता है. इसके बाद अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित करवाकर इच्छुक व्यक्तियों से प्रस्ताव आमंत्रित किए जाते हैं. इस संबंध में डीलरों के चयन के लिए दिशा-निर्देश www.iocl.com पर आपको मिल जाएंगे.

यहां कर सकते हैं संपर्क

आप पेट्रोल पंप खोलने के संबंध में इंडियन ऑयल के संबंधित रिटेल डिवीजनल ऑफिस/फील्ड ऑफिसर से भी संपर्क कर सकते हैं. उनकी डिटेल्स आपको अपने क्षेत्र के इंडियनऑयल रिटेल आउटलेट्स (पेट्रोल पंप) पर मिल जाएंगे.

इतनी जमीन की पड़ती है जरूरत

पेट्रोल पंप खोलने के लिए बड़ी जगह की जरूरत पड़ती है. अगर आवेदक के पास जमीन उपलब्ध है, तो ठीक है. अगर नहीं है, तो लंबी अवधि के लिए आवेदक को जमीन लीज पर लेनी पड़ेगी. पेट्रोल पंप खोलने के लिए 800-1200 स्क्वॉयर मीटर की जगह जरूरी है. अगर आप स्टेट हाइवे और नेशनल हाइवे पर पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं, तो इसके लिए आपके पास मिनिमम 1200 वर्ग मीटर की जगह होनी चाहिए. वहीं, शहरी क्षेत्र में 800 वर्ग मीटर में पेट्रोल पंप खुल सकता है.

विज्ञापन जारी करती हैं कंपनियां

अगर किसी नए क्षेत्र में पेट्रोल पंप खोलने के लिए ऑयल कंपनी विज्ञापन प्रकाशित करती है और इसके लिए एक से अधिक आवेदन आ जाते हैं, तो लॉटरी सिस्टम का इस्तेमाल किया जाता है. विज्ञापन में कंपनी हर एक चीज की जानकारी देती है, जिसकी संबंधित इलाके में पेट्रोल पंप खोलने के लिए जरूरत पड़ती है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें