scorecardresearch
 

देश के लिए गुड न्यूज: ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में भारत ने लगाई छलांग, मोदी सरकार में हुआ जबरदस्त सुधार

Good news for India: व‌र्ल्ड इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी ऑर्गनाइजेशन (WIPO) की ओर से जारी इंडेक्स में दो स्थान सुधरकर भारत इस साल 46वें स्थान पर पहुंच गया. इस इंडेक्स में मोदी सरकार के कार्यकाल में भारत लगातार अपनी स्थिति में सुधार कर रहा है. 

भारत की रैंकिंग में सुधार (फाइल फोटो) भारत की रैंकिंग में सुधार (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स जारी
  • भारत ने फिर लगाई इसमें छलांग

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स 2021 (Global Innovation Index) रैंकिंग में भारत की स्थिति में सुधार आया है. यह देश के लिए अच्छी खबर है. भारत ने इस रैंकिंग में दो पायदान की छलांग लगाई है. गौर करने की बात यह है कि मोदी सरकार के पिछले सात साल में भारत ने इस सूचकांक में जबरदस्त तरक्की की है.

व‌र्ल्ड इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी ऑर्गनाइजेशन (WIPO) की ओर से जारी इंडेक्स में दो स्थान सुधरकर भारत इस साल 46वें स्थान पर पहुंच गया. इस इंडेक्स में मोदी सरकार के कार्यकाल में भारत लगातार अपनी स्थिति में सुधार कर रहा है. 

मोदी राज में हुआ सुधार

साल 2015 में इस सूचकांक में भारत की रैंकिंग 81वीं थी. तबसे इस सूचकांक में लगातार तरक्की करते हुए भारत अब 46वें स्थान पर पहुंच चुका है. नीति आयोग ने एक बयान में कहा, 'महामारी के अभूतपूर्व संकट से निपटने में हमारे लिए इनोवेशन अग्रिम हथ‍ियार की तरह रहा और देश में आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ाने में भी इसकी अहम भूमिका है.' 

क्या कहा WIPO ने 

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक WIPO ने कहा कि यह रैंकिंग सरकारी एवं निजी शोध संस्थानों द्वारा शानदार काम और बेहतर स्टार्टअप इकोसिस्टम का प्रमाण है. परमाणु ऊर्जा विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, बायोटेक्नोलाजी विभाग एवं अंतरिक्ष विभाग जैसे वैज्ञानिक विभागों ने भारत के नेशनल इनोवेशन इकोसिस्टम को मजबूत करने में अहम भूमिका निभाई है. 

डब्ल्यूआइपीओ ने कहा कि यह इंडेक्स दुनियाभर की सरकारों के लिए अपने यहां सामाजिक एवं आर्थिक बदलावों को समझने का आधार बना है. पिछले कुछ वर्षो में इस इंडेक्स ने सरकारों के लिए पालिसी टूल की भूमिका निभाई है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें