scorecardresearch
 

गौतम अडानी करेंगे मुकेश अंबानी से मुकाबला? Jio को टक्कर देने का ये है बड़ा प्लान

मुकेश अंबानी और गौतम अडानी, दोनों ही उद्योगपति गुजरात से आते हैं. अभी तक दोनों समूह अलग-अलग सेक्टर में काम करते आए हैं और उनके बीच कोई सीधी प्रतिस्पर्धा नहीं है. लेकिन हाल के समय में अडानी ग्रुप ने जहां पेट्रोकेमिकल सेक्टर में एंट्री मारी है, तो वहीं रिलायंस ग्रुप ने भी ग्रीन एनर्जी सेक्टर में प्रवेश किया है.

X
मुकेश अंबानी और गौतम अडानी मुकेश अंबानी और गौतम अडानी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अडानी को चाहिए टेलीकॉम स्पेक्ट्रम
  • 5G स्पेक्ट्रम की होनी है नीलामी

एशिया के सबसे अमीर शख्स गौतम अडानी (Gautam Adani) जल्द ही एक नया वेंचर शुरू कर सकते हैं. अगर सब कुछ प्लान के मुताबिक हुआ तो आने वाले दिनों में मुकेश अंबानी की जियो (Mukesh Ambani Reliance Jio) और सुनील भारती मित्तल की एयरटेल (Sunil Bharti Mittal Airtel) को कड़ी टक्कर मिलने वाली है. 

अडानी को चाहिए टेलीकॉम स्पेक्ट्रम

पीटीआई की खबर के मुताबिक अरबपति उद्योगपति गौतम अडानी का अडानी समूह (Adani Group) टेलीकॉम स्पेक्ट्रम हासिल करने की दौड़ में शामिल हो सकता है. सूत्रों के मुताबिक कंपनी ने इसकी प्लानिंग शुरू कर दी है. सरकार ने 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए कंपनियों से आवेदन मंगाए थे, जिन्हें जमा करने की आखिरी तारीख 8 जुलाई थी. सरकार को इसके लिए 4 आवेदन मिले हैं.

स्पेक्ट्रम के लिए आए 4 एप्लीकेशन

इस मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों का कहना है कि टेलीकॉम सेक्टर की तीन प्राइवेट कंपनियां जियो, एयरटेल और वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने 26 जुलाई को होने वाली स्पेक्ट्रम नीलामी के लिए आवेदन किया है. जबकि आवेदन दाखिल करने वाली चौथी कंपनी अडानी ग्रुप है. कंपनी ने हाल ही में नेशनल लॉन्ग डिस्टेंस (NLD) और इंटरनेशनल लॉन्ग डिस्टेंस (ILD) लाइसेंस हासिल किए हैं.

हालांकि इस बारे में अडानी ग्रुप ने ई-मेल या फोन कॉल का जवाब नहीं दिया है और इसकी पुष्टि नहीं की जा सकी है.

5G स्पेक्ट्रम की होनी है नीलामी

सरकार ने 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए जो टाइमलाइन तय की है, उसके हिसाब से 12 जुलाई आवेदन करने वालों की जानकारी 12 जुलाई को सार्वजनिक की जाएगी. सरकार कुल 72,097.85 MHz स्पेक्ट्रम की नीलामी करने जा रही है. इसका मूल्य करीब 4.3 लाख करोड़ रुपये है. इस नीलामी के तहत निचली फ्रीक्वेंसी बैंड में 600 MHz, 700 MHz, 800 MHz, 900 MHz, 1800 MHz, 2100 MHz, 2300 MHz और मिड फ्रीक्वेंसी बैंड में  3300 MHz और हाई फ्रीक्वेंसी बेंड में 26 GHz स्पेक्ट्रम की नीलामी की जानी है. 

अंबानी-अडानी का होगा मुकाबला?

मुकेश अंबानी और गौतम अडानी, दोनों ही उद्योगपति गुजरात से आते हैं. अभी तक दोनों समूह अलग-अलग सेक्टर में काम करते आए हैं और उनके बीच कोई सीधी प्रतिस्पर्धा नहीं है. मुकेश अंबानी का रिलायंस समूह तेल, रिफाइनरी और पेट्रोकेमिकल्स से लेकर टेलीकॉम और रिटेल सेक्टर में काम करता है, वहीं अडानी समूह पोर्ट, कोयला, ग्रीन एनर्जी, बिजली वितरण और एविएशन सेक्टर में है. लेकिन हाल के समय में अडानी ग्रुप ने जहां पेट्रोकेमिकल सेक्टर में एंट्री मारी है, तो वहीं रिलायंस ग्रुप ने भी ग्रीन एनर्जी सेक्टर में प्रवेश किया है. अब टेलीकॉम सेक्टर में अडानी समूह का प्रवेश करना दोनों के बीच पहली सीधी प्रतिस्पर्धा है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें