scorecardresearch
 

मंदी की मार...Amazon ने भारत में बंद कर दिया ये सब काम... बताया आगे का प्लान!

Amazon India To Shut Distribution Services: अपनी फूड डिलीवरी सेवाओं को बंद करने के ऐलान के समय Amazon India ने कहा था कि छोटे भारतीय शहरों में कंपनी काफी ज्यादा संघर्ष कर रही है. इस वजह से इस तरह के फैसले लेने पड़ रहे हैं.

X
एक और सर्विस बंद कर सकती है अमेजन इंडिया
एक और सर्विस बंद कर सकती है अमेजन इंडिया

दुनिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति जेफ बेजोस (Jeff Bezos) के नेतृत्व वाली अमेजन (Amazon) अब पूरा फोकस अपने कोर बिजनेस पर करने का मन बना रही है. इसके मद्देजनर कंपनी ने बड़े कदम उठाना भी शुरू कर दिया है. इस क्रम में बीते दिनों अमेजन ने भारत में अपनी फूड डिलीवरी सर्विस (Food Delivery) को बंद करने का ऐलान किया और इसके तुरंत बाद एड-टेक वर्टिकल से भी पीछे हटने की घोषणा कर दी. अब कंपनी ने देश में अपनी डिस्ट्रीब्यूशन सेवाओं (Distribution Services) को भी बंद करने जा रही है. 

सर्विस बंद करने की ये है वजह!
बिजनेस टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, टेक और ई-कॉमर्स की दिग्गज कंपनी अमेजन फूड डिलीवरी (Amazon Food Delivery) और एड-टेक वर्टिकल Amazon Academy के बाद भारत में अपनी ड्रिस्टीब्यूशन सर्विसेज को बंद कर सकती है. इसमें कहा गया है कि कंपनी अब अपने मुख्य व्यवसाय पर ध्यान केंद्रित करने का प्लान बना रही है और दूसरे सेक्टर्स में कटौती कर रही है. अमेजन डिस्ट्रीब्यूशन मुख्य रूप से बेंगलुरु, हुबली और मैसूर में संचालित है. डिस्ट्रीब्यूशन यूनिट कंपनियों से फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स लेती हैं और उन्हें रिटेलर्स को डिस्ट्रीब्यूट करने का काम करती हैं. 

मंदी के मद्देजनर उठाए जा रहे कदम
रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि Amazon ये कदम आर्थिक मंदी (Recession) के मद्देनजर उठा रही है. कंपनी अब अपने कोर बिजनेस पर ज्यादा फोकस करेगी. गौरतलब है कि अमेजन इंडिया ने बीते शुक्रवार को अपनी वार्षिक परिचालन योजना समीक्षा प्रक्रिया के हिस्से के रूप में अपनी अमेजन फूड डिलीवरी सर्विस को बंद करने का फैसला किया था. इसके अलावा कंपनी ने अमेजन अकादमी को बंद करने का ऐलान किया, जिसे COVID-19 लॉकडाउन के दौरान BYJU's, Unacademy, वेदांतु और अन्य एड-टेक कंपनियों में उछाल को देखते हुए लॉन्च किया गया था. 

छंटनी के खिलाफ मिला था नोटिस
गौरतलब है कि हाल ही में भारतीय श्रम मंत्रालय की ओर से अमेजन इंडिया को नोटिस भी जारी किया गया था. ये नोटिस कंपनी के Layoff प्लान के तहत कर्मचारियों को Voluntary Separation Program का ऑप्शन दिए जाने को लेकर दिया गया था. इस संबंध में लेबर मिनिस्ट्री के उप-मुख्य आयुक्त ए. अंजनप्पा ने अमेजन की सीनियर पब्लिक पॉलिसी मैनेजर स्मिता शर्मा को सुनवाई के लिए बुलाया था. हालांकि, कंपनी की ओर से दावा किया गया कि कर्मचारियों द्वारा बाहर निकलना स्वैच्छिक था और कर्मचारियों पर इस्तीफा देने के लिए कोई अनुचित दबाव नहीं डाला गया.

अमेजन ने नहीं दी कोई प्रतिक्रिया
बिजनेस टुडे के मुताबिक, अपनी एक के बाद एक सर्विसेज बंद करने की घोषणाओं के संबंध में अभी तक अमेजन की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ई-कॉमर्स दिग्गज अमेजन 2020 में भारत में लॉन्च हुई Amazon Food Delivery सर्विस 29 दिसंबर को बंद कर देगी. वहीं अपने ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म अमेजन अकादमी (Amazon Academy) को भारत में अगस्त, 2023 से बंद करने का फैसला लिया गया है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें