scorecardresearch
 

अब भारत में Ford के प्लांट में लटक जाएगा ताला, हुआ आखिरी कार का प्रोडक्शन!

भारत में फोर्ड के दो प्लांट थे. कंपनी का एक प्लांट गुजरात के Sanand में स्थित है. टाटा मोटर्स (Tata Motors) ने हाल ही में ऐलान किया था कि उसने फोर्ड और गुजरात सरकार (Gujarat Govt) के साथ एक त्रिपक्षीय समझौता किया है. यह समझौता फोर्ड के गुजरात प्लांट के अधिग्रहण के लिए था.

X
फोर्ड समेट रही कारोबार फोर्ड समेट रही कारोबार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कंपनी ने पिछले साल किया था एक्जिट का ऐलान
  • टाटा ने खरीदा फोर्ड का गुजरात वाला प्लांट

अमेरिकी कार कंपनी फोर्ड (Ford) भारत से अपना कारोबार समेट रही है. कंपनी ने कुछ समय पहले इसका ऐलान किया था. इसी क्रम में फोर्ड के तमिलनाडु स्थित प्लांट (Ford Tamilnadu Plant) से इस सप्ताह आखिरी कार का प्रोडक्शन किया. फोर्ड भारत में स्थित अपना पहला प्लांट टाटा (Tata) को बेच चुकी है. इस प्लांट का फिलहाल कोई खरीदार नहीं मिल पाया है, इस कारण प्लांट पर ताला लटकना तय है.

टाटा खरीद रही है गुजरात स्थित प्लांट

भारत में फोर्ड के दो प्लांट थे. कंपनी का एक प्लांट गुजरात के Sanand में स्थित है. टाटा मोटर्स (Tata Motors) ने हाल ही में ऐलान किया था कि उसने फोर्ड और गुजरात सरकार (Gujarat Govt) के साथ एक त्रिपक्षीय समझौता किया है. यह समझौता फोर्ड के गुजरात प्लांट के अधिग्रहण के लिए था. फोर्ड का दूसरा प्लांट तमिलनाडु के मराईमलाई नगर (Marai Malai Nagar) में स्थित है, जो चेन्नई से करीब 45 किलोमीटर दूर है. 25 साल से ज्यादा समय तक काम करने के बाद अब इस प्लांट का भविष्य अधर में है. इसी प्लांट में कंपनी ने बुधवार को अपनी आखिरी कार का प्रोडक्शन किया.

चेन्नई प्लांट पर लटक सकता है ताला

बुधवार को सोशल मीडिया पर तस्वीरें और वीडियो वायरल होने लगे, जिसमें एक कार एसेम्बली लाइन से निकलती नजर आ रही है. सफेद रंग की वह कार फोर्ड की लोकप्रिय एसयूवी इकोस्पोर्ट है. फूलों से सजी सफेद फोर्ड इकोस्पोर्ट के रॉल आउट के समय प्लांट के कर्मचारी उसके बगल में खड़े थे. कंपनी के एक अधिकारी ने बाद में बताया कि तमिलनाडु प्लांट में बनने वाली वह अंतिम कार थी. कंपनी अब प्लांट में इस महीने के अंत तक आफ्टरसेल कल-पुर्जे बनाएगी. उसके बाद प्लांट पर ताला लटक सकता है, क्योंकि एक स्थानीय वाहन कंपनी के साथ प्लांट की बिक्री को लेकर चल रही बातचीत अब तक बेनतीजा है.

निर्यात होगी प्लांट की अंतिम कार

कंपनी के एक प्रवक्ता ने गुरुवार को पीटीआई को बताया, 'हां, बुधवार को अंतिम कार का प्रोडक्शन हो गया, जिसका निर्यात किया जाना है. अब चेन्नई प्लांट में आफ्टरसेल, कल-पुर्जे, सब-असेम्बली जैसे बाकी के काम होंगे.' वहीं दूसरी ओर प्लांट के बंद होने की खबरों का कर्मचारियों के संगठन पर खराब असर हुआ है. चेन्नई फोर्ड एम्पलॉइज यूनियन (Chennai Ford Employees Union)  ने साल 2021 में प्लांट बंद होने की खबर बाहर आने के बाद विरोध किया था. कर्मचारियों ने इस साल मई में भी प्रोटेस्ट किया था. वे बेहतर पैकेज की मांग कर रहे थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें