scorecardresearch
 

250 स्टार्टअप लाएंगे EV क्रांति! कीमतें आएंगी पेट्रोल-डीजल गाड़ियों के बराबर: गडकरी

भारत में इलेक्ट्रिक गाड़ियों (EV) का चलन बढ़ रहा है. लेकिन अभी भी कुल गाड़ियों में इनकी संख्या बेहद कम है. वहीं इस बारे में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि आने वाले कुछ साल में इनकी कीमतें पेट्रोल-डीजल गाड़ियों के बराबर होंगी.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (File Photo : PTI) केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (File Photo : PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सबसे बड़ा EV बाजार होगा भारत
  • मजबूत होगा EV Charger नेटवर्क
  • सरकार दे रही वैकल्पिक ईंधन को बढ़ावा

देश में EV की ज्यादा कीमतों के बारे में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि भारत सिर्फ एक EV क्रांति दूर है. इसके बाद परिस्थितियां बदलने लगेंगी. आने वाले एक-दो साल में इलेक्ट्रिक व्हीकल की कीमतें पेट्रोल और डीजल की कारों के बराबर होंगी.

250 स्टार्टअप लाएंगे EV क्रांति!
इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के एक कार्यक्रम में गडकरी ने कहा, ‘‘इलेक्ट्रिक व्हीकल की कीमत ज्यादा होने की वजह इनकी संख्या कम होना है. लेकिन भारत को एक ईवी क्रांति का इंतजार है और करीब 250 स्टार्टअप कंपनियां ईवी टेक्नोलॉजी को सस्ता बनाने के लिए लगातार इनोवेशन कर रही हैं. वहीं कई बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनियां भी इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने उतर चुकी हैं, तो इससे कॉम्पिटीशन बढ़ेगा और इलेक्ट्रिक व्हीकल की कीमतें नीचे आएंगी.’’

मिलेगी EV Charger की सुविधा
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) का कहना है कि भारत बहुत जल्द दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक व्हीकल बाजार होगा. अगले 5 साल में सरकार की 600 से ज्यादा जगहों पर रोड-साइड सुविधाएं विकसित करने की योजना है. इन सभी जगहों पर निश्चित रूप से EV Charging की सुविधा मिलेगी.

वैकल्पिक ईंधन को बढ़ावा
कार्यक्रम में गडकरी ने सवाल किया कि आपको अगर महंगे और प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों के मुकाबले कम मेंटिनेंस, प्रदूषण नहीं फैलाने वाले इलेक्ट्रिक व्हीकल का विकल्प मिले तो आप क्या चुनेंगे? हम ईवी के साथ-साथ इथेनॉल, बायो-एलएनजी, ग्रीन हाइड्रोजन जैसे वैकल्पिक ईंधन को भी बढ़ावा दे रहे हैं.

ये भी पढ़ें: 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें