scorecardresearch
 

भारतीय बाजार से Hyundai Santro की विदाई, इस वजह से अब कंपनी नहीं बनाएगी ये कार!

सस्ती और फैमिली कार के रूप में Hyundai Santro बेहद पॉपुलर थी. लेकिन पिछले कुछ वर्षों में कंपीटिशन बढ़ने से इसकी डिमांड लगातार गिरती गई. जिससे कंपनी ने Santro की पेट्रोल मॉडल का प्रोडक्शन बंद कर दिया है, जबकि CNG वेरिएंट की बिक्री जारी रहेगी.

X
सैंट्रो का प्रोडक्शन बंद
सैंट्रो का प्रोडक्शन बंद
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पहली बार हुंडई ने भारत में सैंट्रो लॉन्च की थी
  • बिक्री में गिरावट से प्रोडक्शन बंद करने का फैसला

देश में मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) के बाद हुंडई मोटर (Hyundai) की सबसे ज्यादा कारें बिकती हैं. Hyundai की एंट्री लेवल हैचबैक Santro सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में से एक है. इस कार ने वर्षों तक लोगों के दिलों पर राज किया है. लेकिन अब कंपनी ने बड़ा फैसला ले लिया है, जिससे इसके दीवानों को झटका लगने वाला है. 

Hyundai Motor India Limited ने Santro का प्रोडक्शन बंद कर दिया है. हुंडई मोटर के तमिलनाडु प्लांट में इस कार का प्रोडक्शन होता था. यह कार पहली बार भारत में 1998 में लॉन्च हुई थी. यानी सैंट्रो का भारतीय बाजार में 24 साल का सफर अब थम गया है. इसी कार के साथ कोरियाई कंपनी हुंडई में भारतीय बाजार में कदम रखा था.  
  
सस्ती और फैमिली कार के रूप में Hyundai Santro बेहद पॉपुलर थी. लेकिन पिछले कुछ वर्षों में कंपीटिशन बढ़ने से इसकी डिमांड लगातार गिरती गई. जिससे कंपनी ने Santro की पेट्रोल मॉडल का प्रोडक्शन बंद कर दिया है, जबकि CNG वेरिएंट की बिक्री जारी रहेगी. हालांकि खबर ये भी है कि डीलरशिप स्टॉक खत्म होने तक पेट्रोल वेरिएंट की बिक्री भी जारी रहेगी. 

Hyundai Santro का प्रोडक्शन बंद
कंपनी ने अक्टूबर 2018 में नए अवतार में Hyundai Santro लॉन्च की थी. कहा जा रहा है कि कार की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी और मांग में गिरावट की वजह से कंपनी को इसका प्रोडक्शन बंद करने का फैसला लेना पड़ा है. दिलचस्प बात यह है कि यह हैचबैक एक समय हुंडई की सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में से एक थी. 

रिपोर्ट की मानें तो कारों में 6 एयरबैग्स अनिवार्य किए जाने वाला ड्राफ्ट नोटिफिकेशन भी इस कार के मॉडल को बंद किए जाने की बड़ी वजह हो सकती है. इसके अलावा फ्यूल की कीमतों बढ़ोतरी की वजह से ग्राहक एंट्री-लेवल हैचबैक के बजाय कॉम्पैक्ट कारों को तरजीह दे रहे हैं.

बिक्री घटने का असर

लगातार बिक्री में गिरावट

बिक्री के आंकड़ों को देखें तो पिछले 6 महीनों में सैंट्रो की एवरेज सेल हर महीने करीब 2,000 यूनिट से कम रही. इसलिए पिछले सप्ताह तमिलनाडु के श्रीपेरंबुदूर में प्रोडक्शन लाइन से इसकी लास्ट यूनिट को रोल आउट किया गया. वित्त वर्ष 2021-22 में सेकेंड जनरेशन की सैंट्रो की कुल 23,700 यूनिट्स सेल हुईं, और 2018 के आखिर में इसके अपडेट के बाद से कुल मिलाकर लगभग 1.46 लाख यूनिट्स की सेल दर्ज की गईं.

Hyundai Santro का इंजन

हुंडई सैंट्रो की कीमतें पिछले साढ़े तीन सालों में 20 से 30 प्रतिशत बढ़ी हैं. Santro में 1.1-लीटर इनलाइन फोर-सिलेंडर पेट्रोल इंजन था, जो 68 bhp की मैक्सिमम पावर और 99 Nm का पीक टॉर्क जेनरेट करता था. जबकि CNG वेरिएंट 59 bhp और 85 Nm टॉर्क जनरेट करता था. भारतीय बाजार में इसकी कीमत 4.89 लाख रुपये से 6.41 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) के बीच है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें