scorecardresearch
 

Mahindra की अफ्रीका में जमी धाक, कामयाबी पर Anand ने कही ये बात!

इस लिस्ट में भारत में मिलने वाली Honda Amaze, Toyota Yaris, Hyundai i20, Maruti Suzuki S-Presso, Suzuki Ignis और Renault Kwid जैसी कारें शामिल हैं, लेकिन इनमें से कोई भी 5-स्टार रेटिंग हासिल करने में सफल नहीं रहा है.

X
आनंद महिंद्रा
आनंद महिंद्रा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जीएनसीएपी ने दी है सेफ्टी रेटिंग
  • महिंद्रा की ये कार मेड इन इंडिया

भारत की ऑटो मोबाइल कंपनियां अब दुनियाभर में अपना लोहा मनवा रही हैं. बात सिर्फ डिजाइन, फीचर्स या लुक की नहीं, बल्कि सेफ्टी रेटिंग के मामले में भी इंडिया में बनी कारें अब वर्ल्ड स्टैंडर्ड की हो गई हैं. इसमें Mahindra & Mahindra और Tata Motors सबसे आगे है. महिंद्रा की भारत में बनी एक कार ने अब अफ्रीका में भी धाक जमाई है और इस तरह अफ्रीका के लोगों को उनके देश की पहली 5-Star Safety Rating कार मिल गई है.

Mahindra XUV300 के नाम खिताब
तो जनाब, अफ्रीका की पहली 5-स्टार सेफ्टी रेटिंग कार बनी है महिंद्रा एंड महिंद्रा की Mahindra XUV300. जी हां, ग्लोबल एनसीएपी (GNCAP) ने ही इस Made in India SUV को ये रेटिंग दी है. जीएनसीएपी दुनिया के अलग-अलग बाजारों में मौजूद कारों के लिए सेफ्टी रेटिंग जारी करती है. जिस तरह वह भारत के लिए #SaferCarsForIndia कैंपेन चलाती है, उसी तरह अफ्रीका के #SaferCarsForAfrica कैंपेन के तहत उसने Mahindra XUV300 को ये रेटिंग दी है. भारत में Mahindra XUV700 को भी जीएनसीएपी की 5-स्टार सेफ्टी रेटिंग मिली है.

आनंद महिंद्रा ने कही ये खूबसूरत बात
महिंद्रा एंड महिंद्रा के चेयरमैन आनंद महिंद्रा से इससे जुड़ी एक खबर को साझा करते हुए कहा- किसी अन्य चीज के मुकाबले इस लिस्ट में टॉप करना, मुझे और भी गौरवान्वित महसूस कराता है.

आनंद महिंद्रा का ट्वीट
आनंद महिंद्रा का ट्वीट

वैसे इस लिस्ट में भारत में मिलने वाली Honda Amaze, Toyota Yaris, Hyundai i20, Maruti Suzuki S-Presso, Suzuki Ignis और Renault Kwid जैसी कारें शामिल हैं, लेकिन इनमें से कोई भी 5-स्टार रेटिंग हासिल करने में सफल नहीं रहा है.

जीएनसीएपी की लिस्ट
जीएनसीएपी की लिस्ट

ऐसे मिली XUV300 को 5-स्टार रेटिंग
महिंद्रा एक्सयूवी300 को एडल्ट कैटेगरी में 5-स्टार सेफ्टी रेटिंग मिली है. जबकि बच्चों की कैटेगरी में ये कार 4-स्टार रेटिंग हासिल कर सकी है. जीएनसीएपी ने अपने क्रैश टेस्ट में महिंद्रा की भारत में बनी कार का इस्तेमाल किया था. इसमें 2 एयरबैग की सेफ्टी मौजूद थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें