scorecardresearch
 
ऑटो न्यूज़

बंद हो जाएगी Ford? मदद के लिए पहुंची आधा दर्जन ऑटो कंपनियों के पास!

Ford बचाना चाहती है 25 साल पुराना कारोबार
  • 1/8

अमेरिकी कार कंपनी Ford भारत में अपने 25 साल पुराने कारोबार को बचाए रखने के लिए कई विकल्पों पर विचार कर रही है. Mahindra & Mahindra के साथ जॉइंट वेंचर की डील नाकाम रहने के बाद कंपनी के लगभग आधा दर्जन ऑटो कंपनियों से संपर्क करने की खबर है.

Ford करना चाहती है ये डील
  • 2/8

इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक Ford India ने लगभग आधा दर्जन कंपनियों से कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग, पार्टनरशिप या अपने एक कारखाने को बेचने तक के लिए संपर्क किया है. इसमें देश की पुरानी ऑटो कंपनी से लेकर नई इलेक्ट्रिक व्हीकल स्टार्टअप तक शामिल हैं.

इन कंपनियों के पास गई Ford
  • 3/8

Ford India के Tata Motors, Chagan Automobiles, Skoda-Volkswagen Group, Shanghai Automotive या MG Motor, Hyundai Motor जैसी बड़ी ऑटो कंपनियों के साथ संपर्क करने की खबर है. वहीं कंपनी ने Ola Electric जैसी नई इलेक्ट्रिक व्हीकल स्टार्टअप के साथ भी संपर्क किया है.
 

घट रहा Ford का निर्यात
  • 4/8

ईटी ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि Ford India का निर्यात घट रहा है. वहीं भारत में उसका कारोबार सिर्फ पुराने मॉडल की वजह से डांवाडोल हो रहा है. Ford निश्चित तौर पर अपने एक कारखाने को बंद करना चाहती है.

Ford बंद कर सकती है दोनों फैक्ट्री
  • 5/8

Ford India की भारत में दो फैक्ट्री हैं. सूत्रों का कहना है कि बहुत बुरी स्थिति में कंपनी अपनी दोनों फैक्ट्री को बंद कर सकती है और भारत के कारोबार को बहुत सीमित और लक्जरी कार तक समेट सकती है.  (Photo : Getty)

करेगी सिर्फ इन कार की बिक्री
  • 6/8

इतनी बुरी स्थिति आने पर Ford India के देश में अपने सिर्फ प्रीमियम मॉडल Ranger, Endeavour और Mustang Lincoln बेचने की उम्मीद है. इनके भी कंपनी के भारत में CKD वैरिएंट बेचने की संभावना है. हालांकि इलेक्ट्रिक व्हीकल को लेकर वह अपने दरवाजे खुले रखेगी.

Ford की चाहत 8% मार्जिन
  • 7/8

Ford India इन सब विकल्पों पर इसलिए विचार कर रही है क्योंकि 2023 तक उसका मध्यावधि लक्ष्य अपने मार्जिन को कर पूर्व आय ( EBIT) के 8% पर लाना है. कंपनी के ग्लोबल सीईओ जिम फारले ने ये लक्ष्य तय किया है.

Ford ने नहीं दिया जवाब
  • 8/8

Ford India के फैक्ट्री बंद करने पर फैसला होने पर एक दो महीने लग सकते हैं. जबकि कंपनी के प्रवक्ता का कहना है कि वह इस तरह की ‘अटकलों’ पर कोई जवाब नहीं दे सकते. भारत Ford के लिए एक अहम बाजार है. कंपनी के देश में 16,000 से ज्यादा कर्मचारी हैं.