कैलिफोर्नियाः स्कूल में फायरिंग, 2 छात्रों की मौत, हमलावर समेत 3 की हालत नाजुक

सदर्न कैलिफोर्निया हाई स्कूल का एक छात्र अपना जन्मदिन मनाने की खातिर स्कूल गया और अपने बैग से पिस्टल निकाल कर क्लासरूम में चला दी, और महज 16 सेकंड में उसने अपने 5 सहपाठियों और खुद को गोली मार दी.

कैलिफोर्निया के एक स्कूल में फायरिंग (IANS)
aajtak.in
  • कैलिफोर्निया ,
  • 14 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 8:34 AM IST

अमेरिका के कैलिफोर्निया के एक स्कूल में गुरुवार को हुई फायरिंग में 2 छात्रों की मौत हो गई है, जबकि 3 छात्र घायल हो गए जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. अधिकारियों के अनुसार सदर्न कैलिफोर्निया हाई स्कूल का एक छात्र अपना जन्मदिन मनाने की खातिर स्कूल गया और अपने बैग से पिस्टल निकाल कर क्लासरूम में चला दी, और महज 16 सेकंड में उसने अपने 5 सहपाठियों और खुद को गोली मार दी.

छात्र की गोलीबारी में घायल 5 छात्रों में दो 16 साल की युवती और 14 साल के युवक की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. अधिकारियों ने बताया कि सांता क्लारिटा में साउगस हाई स्कूल से 3 घायल छात्रों को एंबुलेंस के जरिए अस्पताल ले जाया गया.

लॉस एंजेलिस काउंटी शेरिफ एलेक्स विलेनुवा ने कहा कि गोली चलाने वाले 16 साल के संदिग्ध युवक की भी हालत गंभीर है. अधिकारियों के अनुसार उसने .45 केलिबर पिस्टल की आखिरी गोली खुद पर चलाई. संदिग्ध का नाम नैथियल बेरहाउ है.

फायरिंग की यह घटना स्थानीय समयानुसार गुरुवार को सुबह साढ़े 7 बजे साउगस हाई स्कूल में हुई जो लास एंजेलिस के उत्तर-पश्चिम से 48 किलोमीटर दूर है.

हाल की घटनाएं

अमेरिका में आए दिन गोलीबारी की घटनाएं सुनने को मिलती रहती हैं. बीते अक्टूबर महीने में अमेरिकी राज्य कंसास के कंसास सिटी स्थित एक बार में गोली मारकर चार लोगों की हत्या कर दी गई.

पुलिस ने बताया था कि संदिग्ध लैटिन अमेरिकी मूल का व्यक्ति था जो घटना के बाद फरार हो गया था. स्थानीय मीडिया के अनुसार, शहर के केंद्र में स्थित एक बार टकीला केसी में हुई गोलीबारी के दौरान व्यक्ति ने हैंडगन का इस्तेमाल किया था.

वहीं, इससे पहले टेक्सास में भी दो अलग-अलग गोलीबारी की घटनाएं सामने आईं थीं, जिसमें 44 लोगों की मौत हो गई थी. इस साल अमेरिका में गोलीबारी के 40 से ज्यादा बड़े मामले सामने आए हैं.

Read more!

RECOMMENDED