KPL स्पॉट फिक्सिंग मामले में बेंगलुरु पुलिस ने सभी 7 टीमों को नोटिस जारी किया

कर्नाटक प्रीमियर लीग (KPL) स्पॉट फिक्सिंग और मैच फिक्सिंग मामले में बेंगलुरु पुलिस ने कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ (KSCA) और सभी केपीएल टीम प्रबंधन को नोटिस जारी किया है.

KPL (फाइल)
नागार्जुन
  • बेंगलुरु,
  • 19 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 6:02 PM IST

कर्नाटक प्रीमियर लीग (KPL) स्पॉट फिक्सिंग और मैच फिक्सिंग मामले में बेंगलुरु पुलिस ने कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ (KSCA) और सभी केपीएल टीम प्रबंधन को नोटिस जारी किया है. नोटिस में 18 सवालों का एक सेट है और पुलिस ने सभी से तय समय सीमा के भीतर जवाब देने के लिए कहा है.

बेंगलुरु के संयुक्त आयुक्त अपराध, संदीप पाटिल ने कहा, 'चूंकि जांच में कुछ टीम मालिकों और कोचों की भूमिका का पता चला है, इसलिए KSCA और सभी केपीएल टीम प्रबंधन को नोटिस जारी किया गया है. नोटिस में 18 बिंदु हैं, जिनका उन्हें जवाब देना होगा.' 2019 सीजन में केपीएल में भाग लेने वाली सभी 7 टीमों को नोटिस जारी किया गया है.

KPL स्पॉट फिक्सिंग मामले में 2 और क्रिकेटर गिरफ्तार, धीमी बैटिंग के मिले थे पैसे

इससे पहले केपीएल बेल्लारी टीम के कप्तान सीएम गौतम और अबरार काजी को गिरफ्तार किया गया था. आरोप है कि दोनों क्रिकेटर्स हुबली और बेल्लारी के बीच केपीएल 2019 के फाइनल के दौरान स्पॉट फिक्सिंग में शामिल थे. 33 साल के गौतम आरसीबी, दिल्ली डेयरडेविल्स और मुंबई इंडियंस के लिए आईपीएल में खेल चुके हैं. अबरार रणजी ट्रॉफी के खिलाड़ी हैं.

पुलिस विभाग के सूत्रों ने कहा कि जांच के दौरान कई और क्रिकेटरों के बयान दर्ज किए गए हैं. उन्हें कहा गया है कि वे सहयोग करें और उनके सामने उपस्थित हों.

Read more!

RECOMMENDED