टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान मां ने की बेटी की हत्‍या

किसी भी मां के लिए उसकी औलाद सबसे कीमती होती है. पर क्या कोई मां ऐसी भी हो सकती है जो गुस्से में अपनी ही बेटी का गला घोंट दे?

mother killed daughter
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 09 जुलाई 2015,
  • अपडेटेड 1:10 PM IST

किसी भी मां के लिए उसकी औलाद सबसे कीमती होती है. पर क्या कोई मां ऐसी भी हो सकती है जो गुस्से में अपनी ही बेटी का गला घोंट दे?

अमेरिका के पेंसिलवेनिया की ये महिला अपनी तीन साल की बेटी की हत्या के आरोप में जेल में है. 27 वर्षीय एड्रिन विलियम्स पर अपनी ही बेटी का गला घोंटकर उसकी हत्या करने का आरोप है. मामले की वजह जानकर आप चौंक जाएंगे. दरअसल, ये महिला अपनी तीन साल की बच्ची को टॉयलेट के बाद सफाई करने का तरीका सिखा रही थी. बच्ची को टॉयलेट ट्रेनिंग देने के दौरान उसे इतना गुस्सा आया कि उसने बच्ची का गला घोंट दिया .

बच्ची की हत्या के आरोप में बुधवार के दिन उसे कोर्ट में पेशी के लिए लाया गया. अरेस्ट वॉरेंट के तहत विलियम्स सिंगल मदर थी और इसे अच्छी तरह निभाने के लिए संघर्ष कर रही थी. वो अपनी बेटी से हमेशा ही ऊंची आवाज में बातें किया करती थी.

बच्ची का नाम एड्रिओना था. विलियम्स को अपनी बच्ची के साथ वक्त बिताना भी पसंद नहीं था. उसकी कार से एक नोटबुक भी मिली है, जिसमें लिखा है कि सिंगल पेरेंट होना तनाव भरा है. ये काफी मुश्किल है. मुझे इससे नफरत है और मैं संघर्ष कर रही हूं.

मंगलवार के दिन विलियम्स को कस्टडी में ले लिया गया था. 17 जुलाई तक उसे जमानत नहीं मिल सकती है. 17 जुलाई को उसकी प्रीलिमिनरी हीयरिंग है.

पुलिस ने बताया कि एड्रिओना के घरवालों ने 14 जून को उसके लापता होने की खबर लिखवाई थी, जिसके बाद पड़ताल शुरू की गई. पुलिस को जल्दी ही उसकी लाश मिल गई. लाश के पास मिले सुराग से पूरा शक विलियम्स पर ही जाता है.

हालांकि बच्ची के गुमशुदा होने की खबर फैलने के बाद से विलियम्स ने भी यही जताने की कोशिश की थी कि वो भी बच्ची के लिए फिक्रमंद है.

हिरासत में विलियम्स पर पूरी नजर रखी जा रही है और उसे मनोचिकित्सकों की देखरेख में रखा गया है. वहीं, दूसरी ओर विलियम्स के घरवालों को इस पर कोई आश्चर्य नहीं है.

Read more!

RECOMMENDED