कहीं आपका बच्चा तो नहीं फूड एलर्जी का शिकार, जानें क्या है ये बीमारी

बच्चों के वजन में वृद्धि होने से फूड एलर्जी का 44 फीसदी खतरा बढ़ता है और एक्जिमा होने का 17 फीसदी खतरा होता है.

प्रतीकात्मक तस्वीर
aajtak.in/aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 20 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 3:36 PM IST

वजनदार शिशुओं में बचपन की फूड एलर्जी या एक्जिमा से पीड़ित होने की संभावना ज्यादा होती है. एक शोध में इसका खुलासा हुआ है. यह एलेर्जी न सिर्फ चर्म रोग का कारण बनती है, बल्कि जानलेवा भी है. यह शोध जर्नल ऑफ एलर्जी एंड क्लिनिकल इम्यूनोलॉजी में प्रकाशित हुआ है.

शोधकर्ताओं की टीम ने मानवों पर किए गए पूर्व के अध्ययनों का आकलन करते हुए यह समीक्षा की है. 15,000 शोध की स्क्रिनिंग करने के बाद उन्होंने 42 की पहचान की है जिसमें 20 लाख से ज्यादा एलर्जी पीड़ितों का डाटा शामिल है.

ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड यूनिवर्सिटी की कैथी गैटफोर्ड ने कहा, "हमने जन्म के समय वजन व गर्भकालीन उम्र व बच्चों व वयस्कों के एलर्जी संबंधी बीमारियों की घटनाओं का विश्लेषण किया."

गैटफोर्ड ने कहा, "बच्चे के जन्म के समय वजन में प्रत्येक किलोग्राम की वृद्धि से बच्चे में फूड एलर्जी का 44 फीसदी खतरा बढ़ता है या एक्जिमा होने का 17 फीसदी खतरा होता है." इसमें से ज्यादातर शोध विकसित देशों के बच्चो पर किए गए, जिसमें ज्यादातर यूरोपीय हैं.

Read more!

RECOMMENDED