उत्तराखंड: ऑड-ईवन से हुई लोगों को परेशानी तो सरकार ने वापस लिया फैसला

उत्तराखंड सरकार ने व्यवहारिक दिक्कतों के चलते राज्य में लागू ऑड-ईवन के फैसले को वापस लेने का आदेश जारी किया है. राज्य के आठ शहरों में ऑड-ईवन फार्मूला लागू था.

उत्तराखंड में ऑड-ईवन का फैसला रद्द (प्रतीकात्मक तस्वीर)
aajtak.in
  • देहरादून,
  • 21 मई 2020,
  • अपडेटेड 11:50 AM IST

  • लोगों को हो रही थी ऑड-ईवन से मुश्किल
  • राज्य सरकार ने वापस लिया फैसला
उत्तराखंड सरकार ने आठ शहरों में लागू किए गए ऑड-ईवन नियम फार्मूले से कदम पीछे खींच लिए हैं. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इसके लिए निर्देश भी जारी कर दिया है. इस नियम की वजह से व्यावहारिक तौर पर राज्य में परेशानियां सामने आ रही थीं.

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक यह निर्णय लोगों को हो रही दिक्कतों की चलते लिया गया है. उत्तराखंड के 8 शहरों में वाहनों के लिए ऑड-ईवन नियम लागू थे. अब यह फैसला वापस ले लिया गया है.

दरअसल सोमवार को जारी किए गए आदेश में उत्तराखंड सरकार ने तय किया था कि प्राइवेट गाड़ियों के लिए कुछ प्रमुख शहरों में ऑड-ईवन नियम लागू होगा. इन शहरों में देहरादून, हरिद्वार, रुड़की, कोटद्वार, रुद्रपुर, हल्द्वानी और काशीपुर शामिल थे.

उत्तराखंड के CM बोले- निर्मल और अविरल गंगा का सपना पूरा

सरकार ने सड़कों पर वाहनों की संख्या सीमित करने के लिए यह फैसला लिया था. ये नियम सुबह 7 बजे से 4 बजे तक के लिए तय किए गए थे. बुधवार को इस फैसले को रद्द करने का आदेश जारी हुआ.

ऑड-ईवन नियमों के तहत जिन वाहनों के रजिस्ट्रेशन नंबर ऑड पर खत्म होते हैं, उन्हें ऑड वाले दिन, और जिन वाहनों के नंबर ईवन पर खत्म होते हैं, उन्हें ईवन वाले दिन सड़कों पर निकलने की इजाजत दी जाती है.

Read more!

RECOMMENDED