लखनऊ के एंटी CAA प्रोटेस्ट में UP कांग्रेस माइनॉरिटी सेल के अध्यक्ष गिरफ्तार, जानिए आरोप

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और सरकार के बीच छिड़ी जंग और भी तेज़ हो गई है. इस बीच कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी के बाद से ही प्रियंका ने भी योगी सरकार पर हमला तेज किया है.

कांग्रेस नेताओं ने थाने में किया घेराव
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 30 जून 2020,
  • अपडेटेड 11:21 AM IST

  • यूपी में फिर कांग्रेस बनाम सरकार
  • लखनऊ में कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी पर विवाद

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और योगी सरकार के बीच की लड़ाई अब तीखी होती जा रही है. सोमवार को उत्तर प्रदेश पुलिस ने कांग्रेस पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष शाहनवाज़ आलम को गिरफ्तार कर लिया. उनके खिलाफ पिछले साल लखनऊ के हजरतगंज में नागरिकता संशोधन एक्ट के विरोध के दौरान हुई हिंसा को भड़काने का आरोप है. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी से लेकर अजय सिंह लल्लू तक इस मसले पर सरकार को घेर रहे हैं. इस बीच ये पूरा मामला क्या है, समझिए...

देर रात को गिरफ्तार किए गए शाहनवाज़

कांग्रेस पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शाहनवाज़ आलम को सोमवार देर रात को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया. लखनऊ के गोल्फ लिंक अपार्टमेंट के पास पुलिस के कुछ जवान आए और रात को शाहनवाज़ आलम को गाड़ी में बैठाकर थाने ले गए. जिसके बाद काफी विवाद हुआ. इस गिरफ्तारी का एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है, जिसे प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी साझा किया और ये सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहा है.

शाहनवाज़ पर क्या है आरोप?

पिछले साल दिसंबर में जब देश में नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा था. तभी 19 दिसंबर, 2019 को लखनऊ के कुछ इलाकों में पत्थरबाजी और हिंसा हुई थी, इसी में हजरतगंज इलाके में भी हिंसा हुई थी. यूपी पुलिस ने इसी हिंसा को लेकर शाहनवाज़ आलम को गिरफ्तार किया है.

लखनऊ पुलिस का कहना है कि शाहनवाज की भूमिका पहले भी इस मामले में सामने आई थी, लेकिन अब उनके पास भरपूर साक्ष्य हैं इसलिए गिरफ्तारी की गई है. बता दें कि हजरतगंज में हुई हिंसा के दौरान काफी पत्थरबाजी हुई थी, आगजनी हुई थी और सरकार-प्राइवेट वाहनों में तोड़फोड़ की गई थी.

UP: कांग्रेस नेता गिरफ्तार, प्रियंका बोलीं- दूसरी पार्टियों की आवाज दबा सकते हो, हमारी नहीं

आधी रात को थाने पर जुटे कांग्रेस नेता

जैसे ही शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी की खबर फैली तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं में गुस्सा पनपा. प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी देर रात को ही हजरतगंज पुलिस स्टेशन पहुंच गए और इस गिरफ्तारी का विरोध किया. इस दौरान पुलिस की ओर से थाने में ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया गया. अजय लल्लू ने कहा कि रात के अंधेरे में सादी ड्रेस में पुलिस गिरफ्तारी करे. कुछ भी बताने से इनकार करे, कोतवाली आकर पूछने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज करे - ये यूपी की बहादुर पुलिस है. राजनीतिक आकाओं के दबाव में यह अपनी शपथ भूल चुकी है.

प्रियंका ने भी योगी सरकार को घेरा

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा और यूपी सरकार के बीच लंबे वक्त से तल्खी चल रही है. इस मसले पर भी प्रियंका ने सरकार पर सवाल खड़े कर दिए हैं. प्रियंका ने लिखा 'कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता जनता के मुद्दों पर आवाज उठाने के लिए प्रतिबद्ध हैं. भाजपा सरकार यूपी पुलिस को दमन का औजार बनाकर दूसरी पार्टियों को आवाज उठाने से रोक सकती है, हमारी पार्टी की नहीं. देखिए किस तरह यूपी पुलिस ने हमारे अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष को रात के अंधेरे में उठाया.'

बता दें कि शाहनवाज़ आलम की गिनती प्रदेश कांग्रेस के युवा नेताओं में होती है. प्रियंका गांधी कांग्रेस की जिस नई टीम को खड़ा कर रही है, शाहनवाज़ उसी नई कोर टीम का हिस्सा हैं.

Read more!

RECOMMENDED