सुसाइड केस: सामने आया पूर्व स्पीकर का खत, पैसा देने की थी गुजारिश

आंध्र प्रदेश के पूर्व स्पीकर कोडेला शिव प्रसाद राव की आत्महत्या के मामले में नया खुलासा हुआ है. इंडिया टुडे को वह पत्र मिला है, जिसे कोडेला ने विधानसभा के अधिकारियों को लिखा था. इसमें कोडेला ने फर्नीचर और इलेक्ट्रॉनिक सामानों को स्थायी रूप से आवंटित करने की गुजारिश की थी. इसके लिए वह पैसे देने को भी तैयार थे.

स्पीकर के शिव प्रसाद ने भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद खुदकुशी कर ली थी (फोटो-एएनआई)
आशीष पांडेय
  • हैदराबाद,
  • 18 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 10:45 AM IST

  • स्पीकर के शिव प्रसाद खुदकुशी मामले में नया खुलासा
  • स्पीकर ने पत्र लिखकर फर्नीचर का दाम चुकाने की पेशकश की थी

आंध्र प्रदेश के पूर्व स्पीकर कोडेला शिव प्रसाद राव की आत्महत्या के मामले में नया खुलासा हुआ है. इंडिया टुडे को वह पत्र मिला है, जिसे कोडेला ने विधानसभा के अधिकारियों को लिखा था. इसमें कोडेला ने फर्नीचर और इलेक्ट्रॉनिक सामानों को स्थायी रूप से आवंटित करने की गुजारिश की थी. इसके लिए वह पैसे देने को भी तैयार थे.

पूर्व स्पीकर कोडेला शिव प्रसाद राव ने 7 जुलाई और 20 अगस्त को आंध्र प्रदेश विधासनभा के मौजूदा स्पीकर टी सीताराम और सचिव को पत्र लिखकर फर्नीचर और कंम्यूटर के बारे में बताया था. कोडेला ने इसे स्थायी रूप से आवंटित करने का अनुरोध भी किया था. इसके बदले में कोडेला ने पैसा देने की पेशकश की. इसके बावजूद 24 अगस्त को पूर्व स्पीकर कोडेला शिव प्रसाद राव के खिलाफ 409 और 411 आईपीसी के तहत सरकारी सामानों की चोरी का मुकदमा दर्ज किया गया था.

बता दें कि 16 सितंबर को आंध्र प्रदेश के पूर्व स्पीकर कोडेला शिवा प्रसाद ने खुदकुशी कर ली थी. कोडेला पर विधानसभा से फर्नीचर चुराने का आरोप लगा था. कोडेला का परिवार भ्रष्टाचार और अनियमितताओं का सामना कर रहा था और वाईएसआर कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद उनके बेटे और बेटी के खिलाफ मामले दर्ज किए गए थे. कोडेला पर असेंबली के फर्नीचर चोरी करने का आरोप था. पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है.

Read more!

RECOMMENDED